Zomato के शेयर की कीमत आज 5 प्रतिशत अधिक गिर गई कल 9 प्रतिशत दुर्घटना के बाद क्या आपको सेल होल्ड खरीदना चाहिए, यहां विवरण में जानेंएंकर निवेशकों के लिए Zomato में शेयर रखने की लॉक-इन अवधि समाप्त हो रही है और अमेरिकी परिचालन में समस्याओं के कारण इसकी कीमतें गिर रही हैं।

जोमैटो आउटलुक: 24 अगस्त को बीएसई पर इंट्रा-डे में Zomato के शेयर लगभग 5 फीसदी गिरकर 120.60 रुपये के भाव पर आ गए। एक कारोबारी दिन पहले भी इसकी कीमत में 9 फीसदी की गिरावट आई थी। एंकर निवेशकों के लिए एक महीने की लॉक-इन अवधि खत्म होने के बाद से इसके शेयरों पर दबाव बना हुआ है। विश्लेषकों के मुताबिक, एंकर निवेशकों के लिए अपने शेयरों को रखने के लिए लॉक-इन अवधि की समाप्ति और अमेरिकी परिचालन में समस्याओं के कारण इसकी कीमतें गिर रही हैं। एंकर निवेशकों के लिए लॉक-इन अवधि सोमवार 23 अगस्त को समाप्त हो गई। ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म Zomato ने अपने अनूठे बिजनेस मॉडल के साथ बहुत सारे निवेशकों को आकर्षित किया है और यह देश की पहली सूचीबद्ध ऑनलाइन डिलीवरी कंपनी है।

यह है विशेषज्ञों की राय

  • इक्विटी99 के को-फाउंडर राहुल शर्मा के मुताबिक प्रॉफिट बुकिंग की वजह से पिछले दो दिनों में इसके शेयरों में 15 फीसदी की गिरावट आई है, लेकिन इससे कंपनी के फंडामेंटल में कोई बदलाव नहीं आया है। ऐसे में राहुल शर्मा ने लॉन्ग टर्म इनवेस्टर्स को 105 रुपये के स्टॉप लॉस के साथ पोजीशन बनाए रखने की सलाह दी है। इक्विटी 99 के को-फाउंडर के मुताबिक कंपनी को घाटा जरूर हो रहा है, लेकिन भविष्य में इसकी ग्रोथ को देखते हुए इसका वैल्यूएशन उत्तम है।

Stock Tips: Vodafone Idea समेत इन तीन शेयरों के लिए बनाएं रणनीति, ब्रोकरेज फर्मों ने दी ये रेटिंग

  • Zomato के शेयर अभी भी अपने 52-सप्ताह के निचले स्तर से 6 फीसदी ऊपर हैं, हालांकि यह रिकॉर्ड ऊंचाई से 20 फीसदी गिर गया है। टिप्स2ट्रेड के सह-संस्थापक और ट्रेनर एआर रामचंद्रन के मुताबिक, तकनीकी रूप से जोमैटो का शेयर चार्ट पर कमजोर दिख रहा है और अगर यह 120 रुपये से नीचे आता है तो अगले कुछ कारोबारी दिनों में यह 104 रुपये तक फिसल सकता है।
  • आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज ने अपनी हालिया रिपोर्ट में ज़ोमैटो को एक वैल्यू स्टॉक बताया और इसका कवरेज शुरू किया। घरेलू ब्रोकरेज और रिसर्च फर्म के मुताबिक Zomato की कीमतें मौजूदा स्तर से 70 फीसदी तक उछल सकती हैं.
  • हेम सिक्योरिटीज की सीनियर रिसर्च एनालिस्ट आस्था जैन के मुताबिक 110-150 रुपये के आसपास बेस बनाने से पहले बिकवाली देखी जा सकती है. जैन ने लॉन्ग टर्म इनवेस्टर्स को इसके शेयर होल्ड करने की सलाह दी है। जैन के अनुसार, ज़ोमैटो ने पिछले चार वर्षों में ऑर्डर वैल्यू के मामले में फूड डिलीवरी स्पेस में अपनी बाजार हिस्सेदारी में लगातार वृद्धि की है और विकास की संभावना को देखना जारी रखा है।
    (अनुच्छेद: सुरभि जैन)
    (कहानी में दी गई स्टॉक सिफारिशें संबंधित शोध विश्लेषकों और ब्रोकरेज फर्मों की हैं। फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन इसकी कोई जिम्मेदारी नहीं लेती है। पूंजी बाजार में निवेश जोखिम के अधीन है। कृपया निवेश करने से पहले अपने सलाहकार से परामर्श लें।)
See also  Samsung Galaxy Z Fold 3, Z Flip 3 Price: कंपनी ने भारत में किया ऐलान, 8GB रैम वाला फोल्डेबल स्मार्टफोन 84,999 रुपये में खरीद सकेगी

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर बहुत कुछ। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, हमारा अनुसरण इस पर कीजिये ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।