विंडलास बायोटेक के शेयर 11 अगस्त से आवंटित किए जाएंगे।

विंडलास बायोटेक का 401.53 करोड़ रुपये का शेयर 22.46 गुना सब्सक्राइब हुआ है। कंपनी बुधवार यानी 11 अगस्त 2021 से शेयरों का आवंटन करेगी। ग्रे मार्केट में इसके शेयर 80 रुपये यानी 540 रुपये पर कारोबार कर रहे हैं। यह इसके आईपीओ मूल्य से 17.4 प्रतिशत अधिक है। विंडलास बायोटेक की कोई पीयर कंपनी सूचीबद्ध नहीं है। यह केवल थियोन फार्मा, सिनोकेम फार्मा और इनोवा कैपटैब जैसी गैर-सूचीबद्ध कंपनियों के साथ प्रतिस्पर्धा करता है।

विंडलास बायोटेक के शेयर 17 अगस्त, 2021 को सूचीबद्ध होंगे। एएसबीए खाते में अवरुद्ध राशि 12 अगस्त को अनब्लॉक होगी। अगर आपको इसके शेयर मिलते हैं, तो यह 13 अगस्त को आपके डिपॉजिटरी में क्रेडिट हो जाएगा। जिन निवेशकों ने इसके शेयरों के लिए आवेदन किया है, वे बीएसई या उसके रजिस्ट्रार की वेबसाइट से स्थिति की जांच कर सकते हैं। वे आईपीओ आवंटन और धनवापसी प्रसंस्करण के लिए जिम्मेदार हैं। सेबी में पंजीकृत निवेश सलाहकार INDmoney ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि कंपनी बाजार में अग्रणी है। इसमें रेवेन्यू में अच्छी ग्रोथ है और ग्रोथ की मजबूत संभावनाएं हैं। ऐसे में लॉन्ग टर्म के लिए यह इश्यू काफी अच्छा है।

केमप्लास्ट सनमार का आईपीओ खुला, निवेश करें या नहीं – जानिए क्या है विशेषज्ञों की राय

रजिस्ट्रार लिंक से शेयर आवंटन की स्थिति की जांच कैसे करें

इनटाइम इंडिया वेबसाइट पर जाएं। वहां टाइप करें – ‘विंडलास बायोटेक – आईपीओ’। पैन नंबर, एप्लिकेशन या डिपॉजिटरी / क्लाइंट आईडी के चेक बॉक्स में इनमें से कोई एक विकल्प दर्ज करें। कैप्चा कोड दर्ज करें और सबमिट बटन दबाएं। इसके बाद आपके द्वारा आवेदन किए गए शेयरों की संख्या के साथ आवंटित शेयरों की संख्या स्क्रीन पर दिखाई देगी

See also  पीएम गरीब कल्याण अन्ना योजना: अगले 2 महीने तक गरीबों को 5 किलो मुफ्त खाद्यान्न, 80 करोड़ का होगा फायदा

बीएसई की वेबसाइट पर शेयर आवंटन की स्थिति की जांच कैसे करें

इस लिंक पर क्लिक करें – (https://www.bseindia.com/investors/appli_check.aspx)। ड्रॉप डाउन सूची में ‘विंडलास बायोटेक लिमिटेड’ टाइप करें। इसके बाद पैन डाल दें। इसके बाद ‘आई एम नॉट ए रोबोट’ पर क्लिक करें। इसके बाद सर्च टैब पर क्लिक करें। आप प्राप्त शेयरों की स्थिति देखेंगे।

खुदरा निवेशकों के लिए 35% आरक्षित

आईपीओ के तहत जारी किए जाने वाले 50 प्रतिशत से अधिक शेयर क्यूआईबी के लिए आरक्षित होंगे। 35 प्रतिशत शेयर खुदरा निवेशकों के लिए और शेष 15 प्रतिशत गैर-संस्थागत निवेशकों (एनआईआई) के लिए रखे गए हैं। बाकी खुदरा निवेशकों के लिए आरक्षित है। इस आईपीओ की खास बात यह है कि अभी तक कोई फार्मा फॉर्म्युलेशन कंपनी लिस्टेड नहीं है। अगर विंडलास सूचीबद्ध होता है तो यह ऐसी पहली कंपनी होगी। कंपनी आईपीओ से जुटाई गई रकम का इस्तेमाल क्षमता बढ़ाने के लिए उपकरण खरीदने में करेगी।

कंपनी क्या करती है?

कंपनी देश में फार्मास्यूटिकल्स फॉर्म्युलेशन कॉन्ट्रैक्ट डेवलपमेंट एंड मैन्युफैक्चरिंग ऑर्गनाइजेशन (सीडीएमओ) उद्योग की शीर्ष पांच कंपनियों में से एक है। यह उत्पाद की खोज से लेकर इसके विकास, लाइसेंसिंग और जेनेरिक उत्पादों (दवाओं और न्यूट्रसेल्स) तक जटिल जेनेरिक उत्पादों के विकास और बिक्री में शामिल रहा है। यह काउंटर पर और अपने स्वयं के ब्रांडेड उत्पादों को भी बेचता है। कंपनी आईपीओ से जुटाई गई पूंजी का इस्तेमाल देहरादून स्थित कारखाने की उत्पादन क्षमता बढ़ाने के लिए जरूरी उपकरण खरीदने में करेगी।

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।

See also  वर्क फ्रॉम होम साइड इफेक्ट: वर्क फ्रॉम होम का मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा असर, हर तीन में एक व्यक्ति की निजी जिंदगी प्रभावित, सर्वे में सामने आया