तत्व चिंतन फार्मा के शेयर की कीमत लिस्टिंग स्टॉक पर आईपीओ मूल्य से 95 प्रतिशत बढ़ीतत्त्व चिंतन फार्मा के आईपीओ का निवेशकों के बीच बहुत बड़ा अनुसरण था और यह इस वर्ष 2021 का दूसरा सबसे अधिक सब्सक्राइब किया गया सार्वजनिक निर्गम था।

तत्त्व चितन फार्मा लिस्टिंग: तत्त्व चिंतन फार्मा के शेयरों में आज बाजार में जबरदस्त एंट्री देखने को मिली और आईपीओ निवेशकों का निवेश लगभग दोगुना हो गया। तत्त्व चिंतन फार्मा के शेयर 2111 रुपये पर कारोबार कर रहे हैं, जो 1083 रुपये के आईपीओ मूल्य से लगभग 95 प्रतिशत अधिक है। शेयर बाजार में अपनी स्थापना के समय, तत्त्व चिंतन की बाजार पूंजी 4680 करोड़ रुपये थी। आपको बता दें कि तत्त्व चिंतन फार्मा के आईपीओ को लेकर निवेशकों में जबरदस्त आकर्षण था और यह साल 2021 का दूसरा सबसे ज्यादा सब्सक्राइब किया गया पब्लिक इश्यू रहा। इसका आईपीओ 180.36 गुना ओवर सब्सक्राइब हुआ था। आज लिस्टिंग के बाद शुरुआती कारोबार में ही इसकी कीमत आईपीओ कीमत के मुकाबले 115.58 फीसदी के उच्च स्तर पर पहुंच गई थी।

स्टॉक टिप्स: निफ्टी में अभी तेजी की उम्मीद नहीं, बंपर प्रॉफिट पाने के लिए शॉर्ट टर्म में इन दो शेयरों में करें निवेश

मोतीलाल ओसवाल ने दी सब्सक्राइब रेटिंग

ब्रोकरेज फर्म मोतीलाल ओसवाल के मुताबिक, तत्त्व चिंतन फार्मा दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी है और देश में जिओलाइट्स (ड्रॉइंग एजेंट, डाइटरी सप्लीमेंट्स के रूप में इस्तेमाल होने वाले मिनरल) के लिए एसडीए बनाने वाली भारत की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी है। कंपनी के राजस्व का 40 प्रतिशत एसडीए से आता है। कैलेंडर वर्ष 2019-2024 तक देश में विशेष रासायनिक खंड 11.3% की सीएजीआर से बढ़ने की उम्मीद है। इसके अलावा, भारत से रसायनों का निर्यात भी इस अवधि के दौरान चीन से 7 प्रतिशत के बजाय 13 प्रतिशत की सीएजीआर से बढ़ने की उम्मीद है। मोतीलाल ओसवाल ने चीन+1 रणनीति (चीन के बाहर अन्य देशों में निवेश करने की रणनीति) से भारतीय कंपनियों को लाभ के कारण तत्व चिंतन के आईपीओ की सदस्यता ली, तत्व चिंतन की कई उद्योगों में विविध उत्पाद पोर्टफोलियो के माध्यम से इस अवसर को भुनाने की क्षमता दी गई।

See also  31 मार्च तक पैन-आधार लिंकिंग आवश्यक है; अगर छूट गया तो 1 अप्रैल से पैन कार्ड बेकार हो जाएगा

FD: शेयर बाजार के उतार-चढ़ाव से बचने के लिए इन बैंकों में पाएं FD पर 7% से ज्यादा ब्याज

तत्त्व चिंतन फार्मा के सामने ये हैं कारोबारी दिक्कतें

च्वाइस ब्रोकिंग के अनुसार, लिस्टिंग से पहले तत्त्व चिंतन फार्मा का पीई वैल्यूएशन पीयर्स के 57.2x के औसत के मुकाबले वित्त वर्ष २०११ में ४५.९ गुना ईपीएस (प्रति शेयर आय) २३.६ रुपये था। विश्व स्तर पर प्रतिकूल आर्थिक माहौल, प्रतिकूल सरकारी नीतियां, ग्राहक और उत्पाद पोर्टफोलियो के विस्तार में कठिनाई, प्रतिकूल विदेशी मुद्रा आंदोलन, कच्चे माल की बढ़ती कीमतें चिंतन फार्मा के सामने प्रमुख समस्याएं हैं।
(अनुच्छेद: क्षितिज भार्गव)

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर बहुत कुछ। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।