बैंक निफ्टी के बाद निफ्टी में तेजी का रुझान 36300-36400 पर, इन 3 शेयरों को लाभ के लिए खरीदेंनिफ्टी पर इस समय बुल कंट्रोल दिख रहा है यानि आगे भी इसमें तेजी रहने की संभावना है। (छवि- रॉयटर्स)

स्टॉक टिप्स: पिछले दो कारोबारी दिनों में एनएसई निफ्टी 50 ने मामूली दायरे में कारोबार किया और यह 27 अगस्त को 16722.05 के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया था। आज 30 अगस्त की बात करें तो निफ्टी ने शुरुआती कारोबार में ही 16800 के नए रिकॉर्ड स्तर को छुआ है। निफ्टी पर इस समय बुल का नियंत्रण दिख रहा है यानि आगे भी इसमें तेजी रहने की संभावना है. सूचकांक वर्तमान में 21 दिनों के एक्सपोनेंशियल मूविंग एवरेज के दैनिक अंतराल पर कारोबार कर रहा है। पिछले कारोबारी सप्ताह की बात करें तो निफ्टी का प्रतिरोध 16950-17000 था, जो आज टूट गया है। निफ्टी का सपोर्ट लेवल 16400-16300 है।

वहीं अगर बैंक निफ्टी की बात करें तो पिछला हफ्ता उतार-चढ़ाव भरा रहा और यह 1000 अंकों के दायरे में कारोबार कर रहा था और पिछले हफ्ते की तुलना में 1.70 फीसदी की बढ़त के साथ बंद हुआ. निफ्टी बैंक दैनिक समय सीमा में एक आयताकार पैटर्न में कारोबार कर रहा है और 21 और 50 दिनों में एक्सपोनेंशियल मूविंग एवरेज से ऊपर बंद होने में कामयाब रहा है। अधिकांश संकेतक और ऑसिलेटर बैंकिंग इंडेक्स में नकारात्मक प्रवृत्ति के संकेत दिखा रहे हैं। मोमेंटम ऑसिलेटर्स आरएसआई (14) 55-65 के करीब कमजोरी दिखा रहा है और साप्ताहिक समय सीमा में बैंकिंग शेयरों में साइडवेज ट्रेडिंग रेंज के स्पष्ट संकेत हैं। निफ्टी बैंक को ऊपरी स्तर पर 36300-36400 पर प्रतिरोध का सामना करना पड़ सकता है और इसका समर्थन स्तर वर्तमान में 34800-34600 पर है। एचडीएफसी बैंक जैसे बैंकिंग स्टॉक समेत तीन शेयरों में निवेश कर निवेशक 11 फीसदी तक का मुनाफा कमा सकते हैं।

See also  Share Market LIVE Blog in Hindi: एसजीएक्स निफ्टी में तेजी, ज्यादातर एशियाई बाजारों में गिरावट, आज चार कंपनियों के आईपीओ को सब्सक्राइब करने का आखिरी मौका

एचडीएफसी बैंक: खरीदें
सीएमपी: रुपये 1548.45
लक्ष्य आरएस १६३५ | स्टॉप लॉस 1500 रुपये | वापसी ०५.६२%

पिछले चार महीनों से, स्टॉक एक सममित त्रिकोण गठन में कारोबार कर रहा था और 1530 रुपये के स्तर पर एक ट्रेंड लाइन प्रतिरोध का गठन किया। इसके बाद इसने 24 अगस्त को इस सममित त्रिकोण पैटर्न को 1558 रुपये के स्तर पर तोड़ दिया और अब इसके ऊपर की ओर से उतार-चढ़ाव की संभावना है। स्टॉक वर्तमान में दैनिक समय सीमा में 21, 50 और 100 दिनों के एक्सपोनेंशियल मूविंग एवरेज पर कारोबार कर रहा है, जो निकट अवधि में कीमत के लिए सकारात्मक है। एमएसीडी संकेतक अपनी सिग्नल लाइन के ऊपर एक सकारात्मक क्रॉसओवर के साथ केंद्र रेखा से ऊपर है। 14 दिनों का मोमेंटम ऑसिलेटर 60 के ऊपर है और इससे शेयर में तेजी रहने की संभावना है।

एबीबी इंडिया: खरीदें
सीएमपी: रु 1850
लक्ष्य 2050 रुपये | स्टॉप लॉस रु १७९० | 11% रिटर्न

एबीबी इंडिया में स्विंग ट्रेड सेटअप दिख रहा है और यह निवेशकों को 11 फीसदी का रिटर्न दे सकता है। एबीबी इंडिया ने कई सालों से बनाए गए स्तर को तोड़ दिया है और इसमें और तेजी आने की संभावना है। मूल्य निर्धारण की बात करें तो, बड़ी हरी मोमबत्ती के साथ अच्छी ट्रेडिंग मात्रा के कारण स्टॉक आशाजनक लग रहा है। इंडिकेटर की बात करें तो एमएसीडी (मूविंग एवरेज कन्वर्जेंस डाइवर्जेंस) ने दैनिक चार्ट पर सकारात्मक क्रॉसओवर दिखाया है और एडीएक्स (औसत डायरेक्शनल मूवमेंट इंडेक्स) बढ़ते रुझान के साथ 22 की रीडिंग दिखा रहा है। दैनिक चार्ट पर 14 दिन का आरएसआई (रिलेटिव स्ट्रेंथ इंडेक्स) 67 के आसपास है, जो इस शेयर में तेजी की संभावना को दर्शाता है।

See also  Share Market LIVE Update in Hindi: सेंसेक्स और निफ्टी ने बढ़त के साथ शुरू किया कारोबार, इन शेयरों पर रहेगा फोकस

ब्रिटानिया: खरीदें
सीएमपी: 3941 रुपये
लक्ष्य 4220 रुपये | स्टॉप लॉस रु 3783 | रिटर्न ०७%

पिछले साल मार्च 2020 में ब्रिटानिया फिसलकर 2100 रुपये के निचले स्तर पर आ गई थी लेकिन उसके बाद इसमें तेजी से रिकवरी हुई और महज चार महीने में इसने निवेशकों को 90 फीसदी रिटर्न दिया। 24 जुलाई 2020 को इसकी कीमतें 4010 रुपये के स्तर पर पहुंच गईं। हालांकि, इसके बाद इसमें गिरावट आई। पिछले कारोबारी हफ्ते की बात करें तो यह एक साल के कंसॉलिडेशन पैटर्न को तोड़ते हुए 52 हफ्ते के उच्च स्तर 3967.50 रुपये पर पहुंच गया। निफ्टी एफएमसीजी इंडेक्स ने भी आठ हफ्ते का जोन तोड़ दिया है, जिससे इसमें तेजी की संभावना है। डेली चार्ट पर शेयर ने 3400 रुपये के स्तर के पास डबल बॉटम पैटर्न के बाद डब्ल्यू पैटर्न बनाया है। यह ब्रिटानिया के 200-दिवसीय एक्सपोनेंशियल मूविंग एवरेज से नीचे है।
(अनुच्छेद: रोहन पाटिल, तकनीकी विश्लेषक, बोनान्ज़ा पोर्टफोलियो)
(कहानी में दी गई स्टॉक सिफारिशें संबंधित शोध विश्लेषकों और ब्रोकरेज फर्मों की हैं। फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन इसकी कोई जिम्मेदारी नहीं लेती है। पूंजी बाजार में निवेश जोखिम के अधीन है। कृपया निवेश करने से पहले अपने सलाहकार से परामर्श लें।)

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर बहुत कुछ। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, हमारा अनुसरण इस पर कीजिये ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।