रिलायंस इंडस्ट्रीज का मुनाफा 30 से 50 फीसदी बढ़ने की संभावना

रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) Q1 FY22 परिणाम: रिलायंस इंडस्ट्रीज चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही यानी 2021-22 के नतीजों की घोषणा 23 जुलाई 2021 की देर शाम करेगी। नतीजों से पहले आने वाले अनुमानों में आरआईएल का समेकित शुद्ध लाभ 30 से 50 प्रतिशत तक बढ़ने की उम्मीद है। बिक्री में 60 से 100 फीसदी उछाल का भी अनुमान है।

रिफाइनिंग और रिटेल कारोबार पर कोविड-19 का असर भले ही कंपनी के मुनाफे पर दिख रहा हो, लेकिन जियो की बिक्री में आई तेजी का फायदा इसमें भी देखने को मिलेगा. Jio की प्रति ग्राहक कमाई (ARPU) पिछली तिमाही की तुलना में बढ़ सकती है। जनवरी-मार्च 2021 तिमाही में Jio की प्रति ग्राहक कमाई (ARPU) 138 रुपये रही है। जून तिमाही में इसमें थोड़ी बढ़ोतरी हो सकती है। एयरटेल की प्रति ग्राहक कमाई 145 रुपये है।

कोविड . के बावजूद बिक्री और मुनाफे में अनुमानित बढ़ोतरी

कोटक इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज का अनुमान है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज की बिक्री चालू वित्त वर्ष (2020-21) में पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 80 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज कर सकती है। वहीं, नेट प्रॉफिट में 24.7 फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है। EBITDA 38.7 फीसदी तक बढ़ सकता है।

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज ने EBITDA में 35 फीसदी की वृद्धि का अनुमान लगाया है। इसने कहा है कि बिक्री में 55 प्रतिशत और लाभ में 23.8 प्रतिशत की वृद्धि हो सकती है। ब्रोकरेज फर्म एमके ग्लोबल ने कहा है कि बिक्री में 60 फीसदी और शुद्ध लाभ में 31.3 फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है।

See also  कोविद -19 की दूसरी लहर कंपनियों के मुनाफे को बिगाड़ देगी! इन 21 बड़े और मिडकैप शेयरों पर नजर रखें

दिग्गज बायोफार्मा कंपनी बायोकॉन का मुनाफा 36 फीसदी गिरा, जेनेरिक दवाओं और विशेष वस्तुओं की घटती बिक्री से लगा झटका

Jio जोड़ सकता है 55-85 लाख ग्राहक

कई विश्लेषकों का मानना ​​है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज इस बार 55-85 लाख नए ग्राहक जोड़ सकती है। हालांकि, यह पिछली चार तिमाहियों के औसत से नीचे रह सकता है। साथ ही Jio की प्रति ग्राहक आय मार्च के मुकाबले बढ़ सकती है। रिलायंस का राजस्व 1,41,752 करोड़ रुपये हो सकता है। जून 2020 में 88,253 करोड़ रुपये की तुलना में यह 60% अधिक रह सकता है। इसके खुदरा खंड का EBITDA 59 प्रतिशत गिरकर 1,470 करोड़ रुपये हो सकता है। जेएम फाइनेंशियल ने अपने अनुमान में कहा है कि तेल से केमिकल डिवीजन का EBITDA 3.9% बढ़ सकता है। हालांकि इस बार रिफाइनिंग मार्जिन कमजोर रह सकता है।

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।