सोने की कीमतों में उतार-चढ़ाव, सोने में निवेश के लिए सबसे अच्छा समय, यहां जानिए विशेषज्ञ क्या कहते हैं सोने में निवेश करने के लिए क्या कहते हैं कीमत कोविड 19 डेल्टा वेरिएंट को प्रभावित करने वाली यूएस फेड पॉलिसीजानकारों का मानना ​​है कि इस साल के अंत तक सोने की कीमत 52 हजार के स्तर तक पहुंच सकती है. (छवि- पीटीआई)

स्वर्ण निवेश: पिछले साल अगस्त 2020 में सोने की कीमत रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गई थी, लेकिन उसके बाद से इसमें गिरावट जारी है. हालांकि, पिछले कुछ समय से कमजोर डॉलर और बढ़ती मांग के कारण गैर-कृषि जिंसों की कीमतें तेजी से बढ़ रही हैं। इसके अलावा दुनिया भर में एक बार फिर कोरोना के डेल्टा वेरिएंट को लेकर चिंता बढ़ती जा रही है। ऐसे में एक बार फिर सोने में निवेश के लिए आकर्षण बढ़ता जा रहा है. जानकारों का मानना ​​है कि सोने में निवेश करने का यह बेहतर समय है क्योंकि इस समय सोना अपने रिकॉर्ड भाव से करीब 9500-10000 हजार रुपये की छूट पर है. जानकारों का मानना ​​है कि इस साल 2021 के अंत तक सोने की कीमत 52 हजार के स्तर तक पहुंच सकती है. वहीं अगर डेढ़ महीने की बात करें तो सोने का भाव फिर 50 हजार के स्तर को छू सकता है.
एमसीएक्स (मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज) पर 5 अगस्त एक्सपायरी सोने की कीमत 47908 रुपये और 3 दिसंबर 2021 एक्सपायरी सोने की कीमत 48084 रुपये है। दिल्ली में आज का सोना (22 कैरेट) का हाजिर भाव 47140 रुपये प्रति दस ग्राम है। कॉमेक्स पर सोने की कीमतों में मजबूती आई है और इसकी कीमत बढ़त के साथ 1814 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गई है। कॉमेक्स धातुओं में वायदा और विकल्प कारोबार के लिए दुनिया का सबसे बड़ा बाजार है।

See also  होली 2021: होली पर अपने फोन को पानी से सुरक्षित रखें, इन तरीकों का इस्तेमाल करें

ई-आरयूपीआई क्या है? जानिए कैसे यह डिजिटल करेंसी से अलग है और इसके फायदे

जून 2021 तिमाही में बढ़ी सोने की मांग

  • वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल ने कुछ दिन पहले एक रिपोर्ट जारी की थी। इस रिपोर्ट के मुताबिक इस साल की दूसरी तिमाही (अप्रैल-जून 2021) में सोने की मांग साल-दर-साल 19.2 प्रतिशत बढ़कर 76.1 मिलियन टन हो गई।
  • हालांकि तिमाही आधार पर कोरोना महामारी की दूसरी लहर के चलते जून तिमाही में सोने की मांग में 46 फीसदी की गिरावट आई है। कोरोना के कारण देश के कई हिस्सों में लॉकडाउन/प्रतिबंधों के कारण सोने की मांग प्रभावित हुई।
  • जनवरी-जून 2021 की छमाही में सोने की मांग 157.6 टन थी, जो 2019 की पहली छमाही की तुलना में 46 फीसदी कम और 2015-2019 की पहली छमाही में औसत मांग से 39 फीसदी कम है।
  • दूसरी तिमाही में साल-दर-साल आधार पर सोने के आभूषणों की मांग बढ़ी। इसकी मांग 25 प्रतिशत बढ़कर 55.1 टन हो गई, जबकि निवेश केवल 6 प्रतिशत बढ़ा और अप्रैल-जून 2021 में 21 टन सोने का निवेश किया गया।
  • जून 2021 की तिमाही में 19.7 टन सोने का पुनर्चक्रण किया गया, जो पिछले साल की इसी तिमाही की तुलना में 43 प्रतिशत अधिक था।

स्टॉक टिप्स: जोमैटो के हाई वैल्यूएशन से न डरें, इस टारगेट प्राइस पर जोमैटो में निवेश की सलाह

सोने में निवेश को लेकर ये है एक्सपर्ट्स की राय

  • ब्रोकरेज और रिसर्च फर्म आईआईएफएल सिक्योरिटीज के वाइस प्रेसिडेंट (कमोडिटीज एंड रिसर्च) अनुज गुप्ता के मुताबिक अमेरिकी अर्थव्यवस्था में सुस्ती है, जिससे सोने के प्रति आकर्षण बढ़ रहा है. इसके अलावा त्योहारों और शादियों के चलते अगले कुछ महीनों में सोने की भौतिक मांग बढ़ने वाली है। इस वजह से इसकी कीमतें बढ़ जाएंगी। ऐसे में अनुज गुप्ता का अनुमान है कि अगले एक से डेढ़ महीने में इसकी कीमतें 50 हजार के स्तर को पार कर सकती हैं और दिसंबर तक इसकी कीमतें 52 हजार के स्तर को छू सकती हैं. ऐसे में सोने में निवेश करने का यह बेहतर समय है।
  • यूएस फेड अपने बांड खरीद कार्यक्रम को बदलने की जल्दी में नहीं है और डेल्टा संस्करण के कारण, दुनिया भर के बाजार में निवेश को लेकर एक बार फिर दहशत है। ऐसे में सोने को लेकर निवेशकों का भरोसा मजबूत हो रहा है। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के सीनियर एनालिस्ट (कमोडिटीज) तपन पटेल के मुताबिक, आने वाले हफ्तों में कॉमेक्स पर सोने को 1860 डॉलर प्रति औंस पर प्रतिरोध का सामना करना पड़ सकता है, जबकि इसे 1790 डॉलर पर सपोर्ट मिलेगा। पटेल के मुताबिक, एमसीएक्स पर सोने की अक्टूबर कीमत में गिरावट हो सकती है। फेस रेसिस्टेंस 48600 रुपये प्रति 10 ग्राम और सपोर्ट 47700 रुपये प्रति 10 ग्राम पर मिलेगा।
    (नोट: यह लेख केवल जानकारी के लिए है। निवेश संबंधी कोई भी निर्णय लेने से पहले, कृपया अपने सलाहकार से सलाह लें।)
See also  निवेश करने के लिए धन है, लेकिन बाजार का मूल्यांकन अधिक लगता है? सिस्टमैटिक ट्रांसफर प्लान (एसटीपी) आपकी चिंताओं का समाधान कर सकता है

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर बहुत कुछ। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।