FPI ने अगस्त में किया 986 करोड़ रुपये का निवेश, जानिए क्या है विदेशी निवेश की वजहएफपीआई ने अगस्त में भारतीय बाजारों में शुद्ध रूप से 16,459 करोड़ रुपये का निवेश किया।

अगस्त में एफपीआई निवेश: विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (FPI) ने अगस्त में भारतीय बाजारों में शुद्ध रूप से 16,459 करोड़ रुपये का निवेश किया। इस अवधि के दौरान, FPI ने मुख्य रूप से डेट या बॉन्ड मार्केट में निवेश किया। डिपॉजिटरी के आंकड़ों के मुताबिक, 2 अगस्त से 31 अगस्त के बीच एफपीआई ने इक्विटी में सिर्फ 2,082.94 करोड़ रुपये का निवेश किया। हालांकि, इस दौरान बॉन्ड मार्केट में उनका निवेश 14,376.2 करोड़ रुपये रहा। यह चालू कैलेंडर वर्ष में डेट या बॉन्ड बाजार में एफपीआई निवेश का उच्चतम आंकड़ा है।

जुलाई में एफपीआई ने 7,273 करोड़ रुपये की बिक्री की थी।

विशेषज्ञों का क्या कहना है?

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के मुख्य निवेश रणनीतिकार वीके विजयकुमार ने कहा कि बॉन्ड बाजार में एफपीआई के निवेश का मुख्य कारण अमेरिका और भारत में बॉन्ड पर प्रतिफल में व्यापक अंतर है। अमेरिका में 10 साल के बॉन्ड पर प्रतिफल 1.30 फीसदी से कम है, जबकि भारत में यह 6.2 फीसदी से ऊपर है। इसके अलावा, रुपये की स्थिरता ने हेजिंग की लागत को कम कर दिया है। एफपीआई के लिए विनिमय दरों की उम्मीद है।

उन्होंने कहा कि अगस्त में एफपीआई की शेयर बाजारों में वापसी हुई है। बाजार में तेजी है और वे इस मौके का फायदा नहीं उठाना चाहते। इसके अलावा वैश्विक परिदृश्य भी अनुकूल है। फेडरल रिजर्व ने संकेत दिया है कि ब्याज दरों में बढ़ोतरी अभी दूर है।

टॉप 10 फर्मों का एमकैप: देश की टॉप 10 कंपनियों का मार्केट कैप एक हफ्ते में 2.93 लाख करोड़ बढ़ा, RIL में सबसे ज्यादा उछाल

See also  विंडोज 11 के फेक अपडेट से सावधान! इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो साइबर अपराधी उठा सकते हैं फायदा

इससे पहले जुलाई में एफपीआई ने भारतीय बाजारों से कुल 7,273 करोड़ रुपये निकाले थे। वहीं, सितंबर के पहले तीन कारोबारी सत्रों में एफपीआई ने शेयर और बॉन्ड बाजार में कुल 7,768.32 करोड़ रुपये का निवेश किया है।

कोटक सिक्योरिटीज के इक्विटी टेक्निकल रिसर्च के कार्यकारी उपाध्यक्ष श्रीकांत चौहान ने कहा कि टीकाकरण में तेजी, बेहतर जुलाई जीएसटी डेटा, कमोडिटी ट्रेडिंग में वृद्धि से बाजार की धारणा को मदद मिली है। हालांकि अगस्त का पीएमआई आंकड़ा कमजोर हुआ है।

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और बहुत कुछ फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, हमारा अनुसरण इस पर कीजिये ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।