शेयर बाजार का नजरिया शेयर बाजार का व्यवहार कैसा रहेगा, जानिए सेंसेक्स और निफ्टी के बारे में विशेषज्ञों की रायआइए जानते हैं कि भविष्य में शेयर बाजार का क्या हाल होगा और इस पर विशेषज्ञों की क्या राय है।

शेयर बाजार आउटलुक: बीएसई सेंसेक्स और निफ्टी 50 बुधवार को लगातार तीसरे दिन गिरावट के साथ बंद हुए। अमेरिकी फेडरल रिजर्व की नीति बैठक से पहले निवेशक भी घबराए हुए थे। सेंसेक्स में भी इंडसइंड बैंक और आईसीआईसीआई बैंक को छोड़कर अन्य शेयरों में बिकवाली रही। सेंसेक्स 135.05 अंक नीचे 52,443.71 पर और निफ्टी 37.05 अंक नीचे 15,709.40 पर बंद हुआ। ऐसे में निवेशकों के मन में यह सवाल उठना स्वाभाविक है कि F&O एक्सपायरी के दिन और उसके बाद शेयर बाजार का क्या मिजाज देखा जा सकता है? आइए जानते हैं इस बारे में विशेषज्ञों का क्या कहना है।

दीपक जसानी, खुदरा अनुसंधान प्रमुख, एचडीएफसी सिक्योरिटीज

एचडीएफसी सिक्योरिटीज के हेड रिटेल रिसर्च दीपक जसानी के मुताबिक अगले दो सत्रों के दौरान निफ्टी 15,635 से 15,797 के बैंड में रह सकता है। उन्होंने कहा कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व की नीति बैठक से पहले वैश्विक बाजार ने कुछ स्थिरता दिखाई है। हालांकि, बड़े बाजार में कमजोरी नजर आई है।

मनीष हाथीरमणि, तकनीकी विश्लेषक, दीन दयाल इन्वेस्टमेंट्स

दीन दयाल इन्वेस्टमेंट्स के टेक्निकल एनालिस्ट मनीष हाथीरमणि के मुताबिक बुधवार को निफ्टी जिस तरह से 15,600 के स्तर से नीचे जाकर 15,700 के ऊपर और बंद हुआ, उससे पता चलता है कि बाजार 15,400 से 15,900 के बैंड के बीच कारोबार करेगा।

गौरव उदानी, सीईओ और संस्थापक, थिंकरेडब्लू सिक्योरिटीज

थिंकरेडब्लू सिक्योरिटीज के सीईओ और संस्थापक गौरव उदानी ने कहा कि निफ्टी आने वाले कारोबारी सत्र में 15,500 से 15,580 के दायरे में रह सकता है. लेकिन अगर निफ्टी अपने सपोर्ट लेवल को तोड़कर 15,580 के नीचे बंद होता है तो उसके बाद यह 5,450 से 15400 के स्तर तक जा सकता है।

See also  SBI ने होम लोन की दरें कम कीं, बैंक ने KYC अपडेट पर दी बड़ी राहत

ड्रूम जुटाएगा 1500 करोड़ रुपये, नैस्डैक या भारतीय शेयर बाजार में लिस्ट होगा यह ऑनलाइन ऑटोमोबाइल मार्केटप्लेस

रोहित सिंगरे, वरिष्ठ तकनीकी विश्लेषक, एलकेपी सिक्योरिटीज

एलकेपी सिक्योरिटीज के सीनियर टेक्निकल एनालिस्ट रोहित सिंगरे के मुताबिक निफ्टी को 15,600 से 15,500 के दायरे में मजबूत सपोर्ट मिल रहा है। इसका ऊपरी बैंड रेंज की ओर अधिक झुकाव है, इसलिए यह 15,800-15,900 के क्षेत्र में ऊपर की ओर बढ़ सकता है।

(कहानी: सुरभि जैन)

(कहानी में विचार संबंधित शोध विश्लेषकों और ब्रोकरेज फर्मों के हैं। फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है। पूंजी बाजार में निवेश जोखिम के अधीन है। कृपया निवेश करने से पहले अपने सलाहकार से परामर्श लें।)

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और बहुत कुछ फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।