कोविशील्ड निर्माता सीरम इंस्टीट्यूट एसआईआई फाइजर और मॉडर्ना जैसी सभी वैक्सीन कंपनियों के लिए देनदारियों के खिलाफ क्षतिपूर्ति संरक्षण चाहता है, जिसे माना जाता हैसीरम इंस्टीट्यूट ने सभी वैक्सीन कंपनियों के लिए क्षतिपूर्ति सुरक्षा की मांग की है।

कोविड 19 टीका: पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) ने वैक्सीन के संबंध में किसी भी जवाबदेही के खिलाफ क्षतिपूर्ति सुरक्षा की मांग की है। इसका मतलब यह हुआ कि अगर किसी व्यक्ति को वैक्सीन की डोज मिलने के बाद कोई परेशानी होती है तो वैक्सीन बनाने वाली कंपनी को जिम्मेदार ठहराकर उसके खिलाफ कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की जा सकती। भारत में टीकाकरण कार्यक्रम के तहत सीरम इंस्टिट्यूट की कोविशील्ड वैक्सीन दी जा रही है।
सीरम इंस्टीट्यूट ने सभी वैक्सीन कंपनियों के लिए इस तरह की सुरक्षा की मांग की है। सीरम इंस्टीट्यूट का कहना है कि जब विदेशी कंपनियों को यह सुरक्षा मिली है। आपको बता दें कि सीरम इंस्टीट्यूट की यह मांग कुछ रिपोर्ट्स सामने आने के एक दिन बाद आई है जिसमें कहा गया है कि सरकार फाइजर और मॉडर्न जैसी विदेशी कंपनियों को क्षतिपूर्ति सुरक्षा दे सकती है.

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर बहुत कुछ। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।

READ  फेसबुक की पहली स्मार्टवॉच! डिटेचेबल कैमरा और डबल डिस्प्ले के अलावा जानिए और क्या हो सकता है खास