फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस आईपीओ के जरिए 600 करोड़ रुपये जुटाएगी।

फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस, निजी इक्विटी फर्म क्रिएशन इन्वेस्टमेंट द्वारा समर्थित एक माइक्रोफाइनेंस कंपनी और वारबर्ग पिंकस की एक इकाई 600 करोड़ रुपये का आईपीओ लाएगा। इसके लिए उसने सेबी के पास प्रारंभिक दस्तावेज (डीआरएचपी) दाखिल किए हैं। फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस के इस आईपीओ के माध्यम से, जो ग्रामीण और अर्ध-शहरी क्षेत्रों में संचालित होता है, मौजूदा प्रमोटर देवेश सचदेव, क्रिएशन इन्वेस्टमेंट फ्यूजन और वूआर्बर्ग पिंकस समर्थित हनी रोज इन्वेस्टमेंट अपनी हिस्सेदारी बेचेगा। लिस्टिंग के बाद, कंपनी उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक, सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक और बंधन बैंक सहित अन्य माइक्रो फाइनेंस कंपनियों की श्रेणी में शामिल हो जाएगी।

खुदरा निवेशकों के लिए 35% आरक्षित

फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस 600 करोड़ रुपये का आईपीओ लाएगी। साथ ही इसमें नए शेयर जारी करना ऑफर फॉर सेल के तहत 2,19,66,841 इक्विटी शेयर बेचे जाएंगे।कंपनी ने कहा है कि वह अपने आईपीओ के जरिए जुटाई गई रकम का इस्तेमाल पूंजी आधार बढ़ाने में करेगी। आईपीओ से पहले, फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस के प्रमोटर समूह और अन्य प्रमोटरों की कंपनी में 85.5 फीसदी हिस्सेदारी है। ऑफर फॉर सेल के जरिए जुटाई गई रकम हिस्सेदारी बेचने वाले प्रमोटरों के पास जाएगी। फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस ने कहा है कि वह आईपीओ से पहले प्राइवेट प्लेसमेंट के जरिए 120 करोड़ रुपये जुटाएगी। कंपनी के डीआरएचपी के मुताबिक, 50 फीसदी क्यूआईबी और 35 फीसदी आईपीओ खुदरा निवेशकों के लिए आरक्षित रहेगा। बाकी 15 फीसदी गैर-संस्थागत निवेशकों यानी एनआईआई के लिए होगा।

देवयानी इंटरनेशनल के 1838 करोड़ आईपीओ शेयरों का आवंटन आज, ऐसे देख सकेंगे आवेदन की स्थिति

See also  पेट्रोल-डीजल की कीमत आज: तेल की कीमतों में फिर राहत, अपने शहर में पेट्रोल-डीजल की कीमत की जांच करें

कंपनी का अच्छा प्रदर्शन

वित्तीय वर्ष 2018-19 में फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस की आय 873 करोड़ रुपये थी। जबकि पिछले वित्त वर्ष में इसने 497 करोड़ रुपये की कमाई की थी। कंपनी को 2018-19 में 50 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था, जबकि वित्त वर्ष 2019-20 में उसका लाभ 69 करोड़ रुपये था। हालांकि, कोविड की वजह से यह अगले साल घटकर 43.9 करोड़ रुपये रह गया।

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।