सोने का नजरियागोल्ड आउटलुक: एमसीएक्स पर सोना 47000 रुपये प्रति 10 ग्राम को पार कर गया है, जो 7 सप्ताह का है।

गोल्ड आउटलुक: सोना एक बार फिर निवेशकों के लिए सुरक्षित पनाहगाह बन रहा है। एमसीएक्स पर सोना 47000 रुपये प्रति 10 ग्राम के पार हो गया है, जो 7 सप्ताह का है। पिछले 3 हफ्तों में, सोने में लगभग 5.40 प्रतिशत की वृद्धि हुई है और यह 47175 रुपये तक पहुंच गया है। विशेषज्ञ मान रहे हैं कि सोने की तेजी का यह सिलसिला जारी रहेगा। बाजार में ऐसे कई कारक मौजूद हैं जो सोने का समर्थन कर रहे हैं। सोना जल्द ही 50 हजार रुपये प्रति 10 ग्राम के पार जा सकता है। दूसरी ओर, सोना अभी भी अपने रिकॉर्ड स्तर से लगभग 9000 रुपये प्रति 10 ग्राम की छूट पर है। ऐसे में इस कीमती धातु में निवेश करने का सही समय है।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी सोना 1752 डॉलर प्रति औंस के मजबूत प्रतिरोध को पार कर गया है और 1762 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रहा है। वहीं, फिजिकल मार्केट में देश में सोना 49,200 प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया है। बता दें कि हाल ही में सोना 44000 रुपए कमजोर हुआ था, जिसके बाद इसमें लगातार रिकवरी देखने को मिल रही है। कोरोना वायरस की नई लहर, कच्चे तेल में बढ़ोतरी, रुपये में कमजोरी, वैश्विक मुद्रास्फीति बढ़ने के डर और 10 साल की बांड पैदावार में कुछ नरमी के कारण सोने में तेजी आई है।

विशेषज्ञ के बारे में क्या कहना है

आईआईएफएल सिक्योरिटीज के उपाध्यक्ष (कमोडिटी एंड करेंसी) अनुज गुप्ता का कहना है कि कोरोना वायरस की एक और लहर ने एक बार फिर अर्थव्यवस्था को लेकर चिंताएं बढ़ा दी हैं। ऐसे में सोने को एक बार फिर सुरक्षित ठिकाने के रूप में मजबूत किया गया है। अमेरिका में 10 साल की बॉन्ड यील्ड घटकर 1.567 फीसदी रह गई है। वहीं, डॉलर के मुकाबले रुपया आज भी कमजोर बना हुआ है। रुपया 10 महीने के निचले स्तर पर है और आगे कमजोर होकर 76 रुपये प्रति डॉलर हो सकता है। ये कारक सोने के लिए समर्थन प्रदान करने वाले हैं। वहीं, अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड में तेजी देखी जा रही है। यह $ 66 प्रति बैरल से परे है और ब्रेंट $ 70 के स्तर को पार कर सकता है। इसके कारण वैश्विक मुद्रास्फीति बढ़ने का डर है। ये कारक अभी बाजार में मौजूद होने जा रहे हैं। अक्षय तृतीया भी आ रही है, जिसकी वजह से सोने की मांग बढ़ेगी।

READ  इन्फोसिस: 14 अप्रैल को शेयर बायबैक पर विचार करने के लिए इन्फोसिस, उसी दिन घोषित किए जाने वाले तिमाही परिणाम

सोना कितना महंगा होगा

अनुज गुप्ता का कहना है कि अगर हम अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बात करें तो जल्द ही सोना 1780 डॉलर प्रति औंस का स्तर 1800 डॉलर प्रति औंस दिखा सकता है। घरेलू स्तर पर, अगले 2 महीनों में सोना 49000 से 50000 रुपये प्रति 10 ग्राम तक देखा जा सकता है। अगर हम इस साल दिवाली तक बात करें तो सोना 52000 रुपये से 53000 रुपये तक महंगा हो सकता है।

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम इंडिया न्यूज हिंदी में, और शेयर बाजार, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर बहुत कुछ अन्य ब्रेकिंग न्यूज। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।