सेवानिवृत्ति योजना: यह अजीब लग सकता है अगर किसी व्यक्ति को पहला वेतन मिलते ही सेवानिवृत्ति के लिए वित्तीय योजना बनाने की सलाह दी जाए। लेकिन हकीकत यह है कि देश में हर तीन कामकाजी लोगों में से केवल एक ही अपने रिटायरमेंट के लिए बचत कर रहा है। एचएसबीसी, द फ्यूचर ऑफ रिटायरमेंट, द कॉस्ट ऑफ एजिंग की 2018 की रिपोर्ट में इसकी पुष्टि की गई है। अगर आप भी उन लोगों में से हैं जो रिटायरमेंट के बाद वित्तीय जरूरतों के लिए नियमित रूप से पैसे नहीं बचा रहे हैं तो इसके लिए अभी से तैयारी शुरू कर दें।

पर्सनल फाइनैंस के जानकारों का कहना है कि अपनी मौजूदा लाइफस्टाइल को बनाए रखने के लिए रिटायरमेंट के बाद की आमदनी इसका 80 फीसदी होनी चाहिए। भारतीय लोगों की सेवानिवृत्ति आय में 30 प्रतिशत की गिरावट आई है। आखिर रिटायरमेंट प्लानिंग का सबसे अच्छा तरीका क्या है? आमतौर पर रिटायरमेंट के लिए हम EPF (कर्मचारी भविष्य निधि) और PPF (पब्लिक प्रोविडेंट फंड) में निवेश को पर्याप्त मानते हैं। लेकिन महंगाई के हिसाब से आपकी भविष्य की आर्थिक सुरक्षा के लिए पीएफ और पीपीएफ का 7.5 फीसदी ब्याज नाकाफी होगा। एक अच्छे रिटायरमेंट फंड के लिए एनपीएस, म्यूचुअल फंड और इसकी एसआईपी योजनाओं में निवेश का सहारा ले सकते हैं।

रिटायरमेंट प्लानिंग में इन गलतियों से बचना जरूरी

रिटायरमेंट प्लानिंग को लेकर अक्सर हम गलतियां करते हैं। जितना अधिक आप इन गलतियों से बचेंगे, आपकी योजना उतनी ही बेहतर होगी। आपको अपनी पहली सैलरी से ही रिटायरमेंट प्लानिंग शुरू कर देनी चाहिए। जब आप युवा हैं और कार, होम लोन या अलग बीमा पॉलिसी के लिए प्रीमियम का बोझ नहीं है, तो एक नियम के रूप में, अपने खर्चों का 30 प्रतिशत बचाएं और समझदारी से निवेश करें।

READ  कोविशील्ड में मामूली खतरा, प्रति 1.10 करोड़ डोज पर आ सकती है ऐसी समस्या: रिसर्च

निफ्टी माइक्रोकैप 250 इंडेक्स क्या है? खुदरा निवेशक के लिए कितना उपयोगी है

महंगाई पर ध्यान न दें

सेवानिवृत्ति योजना में मुद्रास्फीति को भी ध्यान में रखा जाना चाहिए। सात फीसदी महंगाई की दर से 50 रुपये का माल 30 साल में 380 रुपये हो जाएगा. अगर आप महंगाई पर ध्यान नहीं देंगे तो आपको निवेश का लाभ नहीं मिलेगा। हमेशा ऐसे उत्पाद में निवेश करें जो महंगाई से ज्यादा रिटर्न दे रहा हो।

पर्याप्त स्वास्थ्य कवरेज नहीं मिल रहा है

स्वास्थ्य बीमा जरूरी है। वृद्धावस्था में स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं बहुत होती हैं। इसलिए अपने परिवार के इतिहास और व्यक्तिगत स्वास्थ्य की स्थिति को ध्यान में रखते हुए आपको सबसे अच्छा प्लान चुनना चाहिए।

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर बहुत कुछ। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।