शेयर बिक्री पर कराधान : वेतन, किराए और व्यावसायिक आय पर आयकर लगाया जाता है। लेकिन क्या शेयरों की बिक्री और खरीद पर भी टैक्स लगता है? हां, शेयरों की खरीद और बिक्री और इससे होने वाले मुनाफे पर कर लगता है। शेयरों की बिक्री से होने वाली आय या हानि ‘पूंजीगत लाभ’ के अंतर्गत आती है।

लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स

अगर 12 महीने के बाद शेयर बाजार में सूचीबद्ध शेयरों को बेचने पर लाभ होता है, तो इसे लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स कहा जाता है। शेयरों के विक्रेता को इस कमाई पर टैक्स देना होता है। लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स को 2018 के बजट में फिर से पेश किया गया था। पहले के इक्विटी शेयर या इक्विटी म्यूचुअल फंड (इक्विटी म्यूचुअल फंडकी इकाइयों की बिक्री से लाभ पर कर नहीं लगाया गया था। आयकर नियम (आयकर नियम) इसे अधिनियम की धारा 10 (38) के तहत कर से छूट दी गई थी। लेकिन 2018 के बजट में शामिल प्रावधान में कहा गया है कि अगर एक साल बाद बेचे गए इक्विटी म्यूचुअल फंड के शेयरों और यूनिट्स की बिक्री पर 1 लाख रुपये से ज्यादा का कैपिटल गेन हुआ है तो उस पर 10 फीसदी टैक्स लगेगा.

शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन टैक्स

यदि स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध शेयर खरीद के 12 महीने के भीतर बेचे जाते हैं, तो 15 प्रतिशत की दर से कर लगाया जाता है। चाहे आप इनकम टैक्स लायबिलिटी के 10 फीसदी स्लैब में आते हों या 20 या 30 फीसदी के स्लैब में, अगर आपने शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन किया है, तो इस पर 15 फीसदी ही टैक्स लगेगा। यदि आपकी कर योग्य आय 2.5 लाख रुपये से कम है, तो शेयरों को बेचने से अर्जित लाभ को इसके खिलाफ समायोजित किया जाएगा और फिर कर की गणना की जाएगी। इस पर 4% उपकर के साथ 15% कर लगेगा।

READ  LIC IPO: हिस्सेदारी बेचने के साथ पूंजी जुटाएगी एलआईसी, ऑफर फॉर सेल के साथ नए इक्विटी शेयर जारी करेगी

इनकम टैक्स फाइलिंग: CBDT ने फॉर्म 15CA/15CB जमा करने की आखिरी तारीख बढ़ाई, पोर्टल में दिक्कतों के चलते फैसला

सुरक्षा लेनदेन कर (एसटीटी)

स्टॉक एक्सचेंज में बेचे और खरीदे गए शेयरों पर प्रतिभूति लेनदेन कर (एसटीटी) लगाया जाता है। जब भी शेयर बाजार में शेयरों की खरीद-बिक्री होती है तो उस पर यह टैक्स देना पड़ता है। शेयरों की बिक्री पर विक्रेता को 0.025 प्रतिशत टैक्स देना होता है। यह कर शेयरों के बिक्री मूल्य पर देना होता है। डिलीवरी आधारित शेयरों या इक्विटी म्यूचुअल फंड की इकाइयों की बिक्री पर 0.001 प्रतिशत की दर से कर लगता है।

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर बहुत कुछ। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।