वर्क फ्रॉम होम कैसे प्रबंधित करें कुशल उत्पादकता और पारिवारिक जीवन के साथ संतुलन के लिए वर्क फ़्रॉम होम को प्रबंधित करने के टिप्सबहुत से लोग सोचते हैं कि वर्क फ्रॉम होम का मतलब आराम से काम करना है लेकिन अगर इसे ठीक से नहीं संभाला गया तो कई समस्याएं पैदा हो सकती हैं। (फाइल फोटो- रॉयटर्स)

पिछले साल 2020 में कोरोना वायरस की वजह से पूरी दुनिया थम गई थी। इसे जारी रखने के लिए वर्क फ्रॉम होम कल्चर आ गया है। यह संस्कृति कोई नई नहीं है लेकिन पहली बार इसे व्यापक रूप से अपनाया गया। अब जबकि कई ऑफिस खुलने लगे हैं लेकिन फिर भी ज्यादातर कंपनियां वर्क फ्रॉम होम को प्राथमिकता दे रही हैं। बहुत से लोग सोचते हैं कि वर्क फ्रॉम होम का मतलब काम को आराम से संभालना है लेकिन अगर इसे ठीक से नहीं संभाला गया तो कई समस्याएं पैदा हो सकती हैं। ऐसे में जरूरी है कि प्रोफेशनल लाइफ और पर्सनल लाइफ के बीच बैलेंस बनाया जाए। इससे न सिर्फ उत्पादकता बढ़ेगी बल्कि परिवार के साथ क्वालिटी टाइम बिताने में भी मदद मिलेगी।

एक उचित शेड्यूल बनाएं

जब आप ऑफिस से काम करते हैं तो इसका एक निश्चित समय होता है। वर्क फ्रॉम होम होने का मतलब यह नहीं है कि आपको दिन भर में कभी भी काम मिल जाए, इसके बजाय वर्क फ्रॉम होम का एक उचित शेड्यूल बनाएं। इससे आप इस समय के बाद के घंटों में परिवार को बेहतर समय दे पाएंगे।

ईंधन के बढ़ते दाम: समझें ऑयल बॉन्ड का पूरा हिसाब, मोदी सरकार में तेल से होने वाली आमदनी में राज्यों का घटा हिस्सा

काम करने के लिए एक निश्चित जगह निर्धारित करें

वर्क फ्रॉम होम का मतलब यह नहीं है कि आप घर के किसी कोने में बैठकर काम कर लें। इसके बजाय घर में कोई एक जगह तय कर लें और वहां अपनी जरूरत के हिसाब से सारी व्यवस्था कर लें। जैसे लैपटॉप/कंप्यूटर के लिए बिजली का सॉकेट, इंटरनेट कनेक्शन, कार्यालय उपकरण आदि उस स्थान पर। एक बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि ऐसी जगह का चुनाव करें जहां मोबाइल में नेटवर्क भी बेहतर हो।

See also  वीवो Y12G भारत लॉन्च: 3GB रैम, डुअल रियर कैमरा के साथ 10,990 रुपये का स्मार्टफोन

कार्यालय या अपनी टीम के संपर्क में रहें

घर से काम करते समय ऑफिस या अपनी टीम से लगातार संपर्क बनाए रखें। इससे आप कोई भी महत्वपूर्ण जानकारी मिस नहीं करेंगे, जैसे कि ऑफिस से कोई मेल आया है, लेकिन हो सकता है कि आप उस पर घंटों ध्यान न दें।

परिवार को अपनी शिफ्ट का समय अवश्य बताएं

घर से काम करते समय परिवार के सदस्यों का सहयोग बहुत जरूरी है। ऐसे में अपनी शिफ्ट टाइमिंग के बारे में अपने परिवार को जरूर बताएं। इससे आप शिफ्ट टाइमिंग के दौरान परेशान नहीं होंगे और परिवार को भी पता चल जाएगा कि आप कब उपलब्ध होंगे।

स्टॉक टिप्स: 16900 के स्तर को पार कर सकता है निफ्टी, इन दो शेयरों में निवेश कर पाएं महीने में 12% तक मुनाफा

बीच-बीच में ब्रेक भी जरूरी

ऑफिस में काम करने के दौरान वह सहकर्मी से बात करके या कैंटीन में जाकर खुद को तरोताजा कर देते थे। आपको घर से काम करते हुए भी यही काम करना है। वर्क फ्रॉम होम करते समय बीच-बीच में ब्रेक लें। कुछ देर टहलें या परिवार के सदस्यों से हल्की-फुल्की बातें करें या चाय-कॉफी पिएं।

यात्रा के बचे हुए समय का सदुपयोग करें

जब आप ऑफिस जाते थे तो आने-जाने में समय लगता था। आप इस समय का उपयोग अपने परिवार के साथ समय बिताने के लिए कर सकते हैं।

सप्ताहांत की योजना बनाएं

पहले जब ऑफिस होते थे तो वीकेंड प्लानिंग की जाती थी जैसे मूवी देखना, वॉक पर जाना या किताब पढ़ना। वर्क फ्रॉम होम के दौरान भी इस क्रम को बनाए रखना होता है। वीकेंड पर अपने परिवार के साथ मूवी देखें या टहलने जाएं या आप चाहें तो कोई ऐसी किताब पढ़ सकते हैं जो लंबे समय से आपके पास अधूरी पड़ी हो।

See also  कोविद 19 अपडेट: उच्च न्यायालय ने गुजरात सरकार को फटकार लगाई, सरकारी दावों को सच्चाई से दूर बताया, भगवान भरोसे लोग हैं

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।