रोलेक्स रिंग्स की शेयर बाजार में मजबूत लिस्टिंग हो सकती है।

रोलेक्स रिंग्स आईपीओ के तहत शेयर आवंटन के बाद अब सबकी निगाहें इसकी लिस्टिंग पर टिकी हैं। इसे 9 अगस्त को शेयर बाजार में लिस्ट किया जाएगा। इस पब्लिक इश्यू को 133.40 गुना सब्सक्राइब किया गया है और उम्मीद है कि शेयर बाजार में इस ऑटो कंपोनेंट कंपनी के शेयरों की लिस्टिंग काफी अच्छी होगी। ग्रे मार्केट में भी इसकी कीमतें इसकी मजबूत लिस्टिंग का संकेत दे रही हैं। ग्रे मार्केट में कंपनी के शेयर 450 रुपये से ऊपर के प्रीमियम पर कारोबार कर रहे हैं। यानी इसकी ग्रे मार्केट ट्रेडिंग कीमत 1,350 रुपये पर दिख रही है, जो कि 900 रुपये के इश्यू प्राइस से काफी ज्यादा है।

कंपनी का आईपीओ 130.44 गुना सब्सक्राइब हुआ था

कंपनी का आईपीओ 130.44 गुना सब्सक्राइब हुआ था। कंपनी ने इश्यू से 731 करोड़ रुपये जुटाए हैं। जबरदस्त सब्सक्रिप्शन के बाद अब बाजार की नजर रोलेक्स रिंग्स की लिस्टिंग पर है। इस आईपीओ का प्राइस बैंड 880-900 रुपये रखा गया है। कंपनी ने 56 करोड़ के नए शेयर जारी किए थे। वहीं, ऑफर फॉर (ओएफएस) के तहत 75 लाख इक्विटी शेयर बेचे गए। इक्विरस कैपिटल प्राइवेट लिमिटेड, आईडीबीआई कैपिटल मार्केट्स एंड सिक्योरिटीज लिमिटेड और जेएम फाइनेंशियल लिमिटेड इश्यू के बुक रनिंग लीड मैनेजर थे। आईपीओ बाजार पर नजर रखने वालों का कहना है कि इश्यू के ग्रे मार्केट प्रीमियम को देखते हुए रोलेक्स रिंग्स को प्रीमियम पर सूचीबद्ध किए जाने की संभावना है। दिखाई दे रहा है। वैसे प्राइमरी मार्केट का मिजाज सेकेंडरी मार्केट पर भी निर्भर करता है। विश्लेषकों का कहना है कि हाल के दिनों में कई आईपीओ की लिस्टिंग काफी मजबूत रही है।

See also  कोरोना संकट: लिक्विड फंड में क्यों निवेश कर रहे हैं निवेशक? यह निवेश और लाभ का गणित हो सकता है

नया आईपीओ: आईपीओ से पहले ही नुवोको विस्टा ने एंकर निवेशकों से जुटाए 1500 करोड़; जानिए, 9 अगस्त को खुलने वाले पब्लिक इश्यू का प्राइस बैंड

कंपनी के लाभ में वृद्धि

गुजरात के राजकोट में स्थित रोलेक्स रिंग्स, देश में जाली और मशीनीकृत घटकों का एक अग्रणी निर्माता है। पिछले वित्त वर्ष 2020-21 में कंपनी को 86.95 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था, जबकि पिछले वित्त वर्ष 2019-20 में कंपनी को 52.94 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। हालांकि, इसके राजस्व में गिरावट आई है। संचालन के माध्यम से इसका राजस्व वित्तीय वर्ष 2019-20 में 666 करोड़ रुपये से घटकर वित्तीय वर्ष 2020-21 में 616.36 करोड़ रुपये हो गया।

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर बहुत कुछ। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।