रिलायंस रिटेल की नई डील: जस्ट डायल में रिलायंस रिटेल की 40.95 फीसदी हिस्सेदारी होगी। कंपनी ने शुक्रवार को इसकी घोषणा की। कंपनी ने कहा है कि वह इसके लिए 3,497 करोड़ रुपये देगी। रिलायंस रिटेल के इस फैसले से तेजी से बढ़ते ई-कॉमर्स बाजार में रिलायंस के कदम और मजबूत होंगे। जस्ट डायल में बची हुई 26 फीसदी हिस्सेदारी के लिए कंपनी ओपन ऑफर लाएगी।

जस्ट डायल में खरीदारी करना रिलायंस रिटेल की डिजिटल रणनीति का हिस्सा है

रिलायंस द्वारा जस्ट डायल में किया गया यह निवेश उसकी डिजिटल रणनीति का हिस्सा है। हाल के दिनों में रिलायंस रिटेल ने कई अन्य कंपनियों में हिस्सेदारी खरीदी है। इनमें नेटमेड्स, अर्बन लैडर जैसी कंपनियां शामिल हैं।
हुह। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की खुदरा इकाई रिलायंस रिटेल जस्ट डायल (जो कंपनी में 26 प्रतिशत हिस्सेदारी के बराबर है) के 2.17 करोड़ इक्विटी शेयर खरीदने के लिए एक खुली पेशकश की घोषणा करेगी। सेबी को रेगुलेटरी फाइलिंग में कंपनी ने कहा है कि वह जल्द ही ओपन ऑफर लाने की सार्वजनिक घोषणा करेगी।

क्या फोर्ड इंडिया बोली लगाएगी भारत को विदाई, जानिए क्यों हुआ ऐसा?

जस्ट डायल के संस्थापक एमडी और सीईओ के रूप में काम करते रहेंगे

जस्ट डायल के संस्थापक वीएसएस मणि प्रबंध निदेशक और सीईओ के रूप में काम करना जारी रखेंगे। रिलायंस रिटेल के मुताबिक वह कंपनी के अगले चरण की ग्रोथ के लिए काम करेंगे। रिलायंस रिटेल और जस्ट डायल के बीच सौदा शेयरधारकों की मंजूरी के अधीन होगा। रिलायंस रिटेल को तरजीही शेयर आवंटन के जरिए 40.95 फीसदी हिस्सेदारी का 25.33 फीसदी हिस्सा मिलेगा। रिलायंस रिटेल को जस्ट डायल का 2.12 करोड़ इक्विटी तरजीही आवंटन मिलेगा। कंपनी को ये शेयर 1022.25 रुपये प्रति शेयर की दर से मिलेंगे। रिलायंस रिटेल जस्ट डायल के प्रमोटर वीएसएस मणि से 1.31 करोड़ इक्विटी शेयर खरीदेगी। इस डील से रिलायंस रिटेल को जस्ट डायल का 3.04 करोड़ लोगों का डेटाबेस भी मिल जाएगा। मणि ने 25 साल पहले जस्ट डायल की शुरुआत की थी।

READ  नई ट्रेनें: ट्रेनों में फिर शुरू होगी एसी-इकोनॉमी क्लास, जानें कितना होगा किराया और क्या मिलेगी सुविधाएं

.

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर बहुत कुछ। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।