रिलायंस इंडस्ट्रीज की नजर अब डिजिटल हेल्थकेयर बाजार पर

रिलायंस इंडस्ट्रीज की सहायक कंपनी रिलायंस स्ट्रैटेजिक बिजनेस वेंचर्स (आरएसबीवीएल) ने स्ट्रैंड लाइफ साइंसेज में 57.06 फीसदी हिस्सेदारी 393 करोड़ रुपये में खरीदी है। कंपनी मार्च 2023 तक इसमें अपनी हिस्सेदारी और बढ़ाएगी। इसके लिए वह 160 करोड़ रुपये खर्च करेगी। इस तरह रिलायंस स्ट्रेटेजिक बिजनेस वेंचर्स इसमें कुल 553 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। इसके बाद स्ट्रैंड लाइफ साइंसेज में इसकी हिस्सेदारी बढ़कर 80.3 फीसदी हो जाएगी।

2.28 करोड़ इक्विटी शेयरों की खरीद

रिलायंस स्ट्रैटेजिक बिजनेस वेंचर्स लिमिटेड ने स्ट्रैंड लाइफ साइंसेज के 2.28 करोड़ इक्विटी शेयर खरीदे हैं। इस तरह इसमें उसका हिस्सा बढ़कर 57 फीसदी हो गया। डिजिटल हेल्थकेयर सेक्टर में रिलायंस की पैठ बढ़ाने को देखते हुए कंपनी के शेयरों में खरीदारी देखने को मिली है. स्ट्रैंड लाइफ साइंसेज की शुरुआत 2000 में हुई थी। यह कंपनी जीनोम टेस्टिंग, बायोइनफॉरमैटिक्स सॉफ्टवेयर का कारोबार करती है। यह क्लीनिक, अस्पतालों, चिकित्सा उपकरण निर्माताओं और दवा कंपनियों को भी अपनी सेवाएं प्रदान करता है।

रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर नई ऊंचाई पर; इन्वेस्टर्स बुक या होल्ड प्रॉफिट – जानिए एक्सपर्ट्स की राय

यह अधिग्रहण रिलायंस की डिजिटल हेल्थ इनिशिएटिव का हिस्सा है

वित्त वर्ष 2020-21 में कंपनी ने 8.48 करोड़ का शुद्ध लाभ हासिल किया था। कंपनी का टर्नओवर 88.70 करोड़ रुपये था। रिलायंस की स्ट्रैंड लाइफ साइंसेज की खरीद उसकी डिजिटल स्वास्थ्य पहल में गतिविधियों को बढ़ाने की रणनीति का हिस्सा है। कंपनी ने Netmeds, Karexpert Qj c-Square में हिस्सेदारी खरीदी है।

पिछले साल सितंबर में रिलायंस ने ऑनलाइन फार्मेसी नेटमेड्स में 60 फीसदी हिस्सेदारी 620 करोड़ रुपये में खरीदी थी। कंपनी ई-फार्मेसी में प्रवेश करना चाहती है और ई-फार्मेसी में रिलायंस रिटेल की पैठ बढ़ाना चाहती है। चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में रिलायंस 114 फार्मेसी चला रही थी। इसके साथ ही इसने बेंगलुरु में हाइपर लोकल डिलीवरी का पायलट प्रोजेक्ट भी शुरू किया है। कंपनी डिजिटल हेल्थकेयर में अपनी उपस्थिति बढ़ाने के लिए डोर-टू-डोर मार्केटिंग भी कर रही है। इसके साथ ही स्वास्थ्य शिविरों का भी आयोजन किया जा रहा है। कंपनी तेजी से डिलीवरी पर जोर दे रही है ताकि वह बाजार में प्रतिस्पर्धियों को टक्कर दे सके।

See also  सप्ताह में 4 आईपीओ अर्जित करने के लिए 3 दिनों में बैंक सूची में सूचीबद्ध होना चाहिए, लिस्टिंग लाभ पर ग्रे बाजार से संकेत क्या हैं

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और बहुत कुछ फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, हमारा अनुसरण इस पर कीजिये ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।