फुटवियर रिटेलर मेट्रो ब्रांड्स लिमिटेड आईपीओ लाने जा रहा है। कंपनी ने अपने प्राथमिक निर्गम के लिए सेबी के पास प्रारंभिक दस्तावेज यानी DRHP दाखिल किए हैं। इसके मुताबिक आईपीओ के तहत 250 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे। वहीं, मौजूदा शेयरधारक ऑफर फॉर सेल के तहत 2,19,00,100 इक्विटी शेयर बेचेंगे। कंपनी प्री-प्लेसमेंट पर 10 करोड़ रुपये का आईपीओ भी ला सकती है। यदि ऐसा किया जाता है, तो नए मुद्दे का आकार कम हो जाएगा।

नए स्टोर खोलने में खर्च होगा आईपीओ का पैसा

एक्सिस कैपिटल, डीएएम कैपिटल एडवाइजर्स, इक्विरस कैपिटल, आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज और मोतीलाल ओसवाल इन्वेस्टमेंट कंपनी के आईपीओ के बुक रनिंग के लिए निवेश प्रबंधक हैं। कंपनी ने कहा है कि वह आईपीओ के जरिए जुटाई गई रकम का इस्तेमाल मेट्रो, कॉबलर, वॉकवे और क्रोक्स ब्रांड के तहत नए स्टोर खोलने और सामान्य कॉरपोरेट जरूरतों को पूरा करने में करेगी।

अदानी विल्मर को लगा झटका, सेबी ने फिलहाल 4500 करोड़ का आईपीओ रोका

134 शहरों में कंपनी के 586 स्टोर हैं

मार्च 2021 तक कंपनी के 29 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 134 शहरों में 586 स्टोर थे। कंपनी को अनुभवी निवेशक राकेश झुनझुनवाला का समर्थन प्राप्त है। कंपनी मिड और प्रीमियम सेगमेंट के फुटवियर बाजार में सक्रिय है। कंपनी ने अपना पहला स्टोर 1955 में मेट्रो ब्रांड के तहत खोला था। इसके बाद इसका विस्तार हुआ। कंपनी हर तरह की जरूरत के हिसाब से प्रोडक्ट बनाती है।

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, हमारा अनुसरण इस पर कीजिये ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।

See also  झुनझुनवाला पोर्टफोलियो समाचार: झुनझुनवाला के पोर्टफोलियो में शामिल यह स्टॉक एक हफ्ते में 6% गिरा, विश्लेषकों ने 'सेल' रेटिंग डाउनग्रेड की