यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के शुद्ध ब्याज मार्जिन में भी सुधार हुआ है

चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में सार्वजनिक क्षेत्र के यूनियन बैंक ऑफ इंडिया का शुद्ध लाभ तीन गुना से अधिक बढ़कर 1,120.15 करोड़ रुपये हो गया। पिछले साल अप्रैल से जून के बीच बैंक को 340.95 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। हालांकि तिमाही आधार पर बैंक के शुद्ध लाभ में कमी आई है। जनवरी से मार्च तिमाही के दौरान बैंक को 1,269.18 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था।

बैंक की आय में वृद्धि

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने एक नियामकीय फाइलिंग में कहा कि अप्रैल-जून तिमाही में बैंक की कुल आय भी बढ़कर 20,666.62 करोड़ रुपये हो गई। वित्त वर्ष 2020-21 की पहली तिमाही में बैंक को 20,487.01 करोड़ रुपये की आय हुई थी। अप्रैल-जून तिमाही में एनपीए के खिलाफ बैंक का प्रावधान 3,593.33 करोड़ रुपये था। पिछले साल की समान तिमाही में यह आंकड़ा 3,590.22 करोड़ रुपये था।

New IPO News: साल भर रहेगी आईपीओ की झड़ी, 1 लाख करोड़ रुपये के प्लान में निवेशकों के पास है कमाई का भरपूर मौका

बैंक के शुद्ध ब्याज मार्जिन में सुधार

पीटीआई के अनुसार, बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ राजकिरण राय ने संवाददाताओं से कहा, “बैंक का प्रदर्शन स्थिर हो गया है और हमने काफी सुधार देखा है। लगभग तीन से चार तिमाहियों के बाद, हमने कारोबार में सामान्य तिमाही देखी है। बैंक की शुद्ध ब्याज आय पहली तिमाही में 9.53 प्रतिशत बढ़कर 7,013 करोड़ रुपये हो गई, जो एक साल पहले इसी तिमाही में 6,403 करोड़ रुपये थी। इसी समय, बैंक का शुद्ध ब्याज मार्जिन (NIM) 30 आधार अंक बढ़कर एक साल पहले के 2.78 फीसदी से 3.08 फीसदी।

See also  दिल्ली उच्च न्यायालय से फेसबुक व्हाट्सएप झटका, प्रतिस्पर्धा आयोग जांच आदेश के खिलाफ याचिका खारिज

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर बहुत कुछ। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।