मारुति सुजुकी Q4मारुति सुजुकी Q4: मार्च तिमाही में मारुति सुजुकी का लाभ 9.7 प्रतिशत घटकर 1166.1 करोड़ रुपये रहा।

मारुति सुजुकी Q4: देश की सबसे बड़ी ऑटो निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने मार्च तिमाही के अपने नतीजे घोषित कर दिए हैं। मार्च तिमाही में कंपनी का प्रॉफिट 9.7 प्रतिशत घटा है। इस दौरान कंपनी ने 1166.1 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया है। जबकि पिछले साल की समान तिमाही में मारुति को 1291.7 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। हालांकि, इस अवधि के दौरान कंपनी की आय 32 प्रतिशत से अधिक रही है। परिणाम पेश करते समय, कंपनी ने निवेशकों को प्रति शेयर 45 रुपये के लाभांश की घोषणा की है। कंपनी ने कहा है कि यह ध्यान में रखा जाना चाहिए कि कोविद -19 के कारण बिक्री में गिरावट आई थी।

मारुति की आय 24,024 करोड़ रुपये थी

मार्च की चौथी तिमाही में, मारुति सुजुकी का राजस्व 32 प्रतिशत से अधिक था। इस दौरान कंपनी को 24,024 करोड़ रुपये की आय हुई। जबकि एक साल पहले इसी तिमाही में मारुति की आय 18,199 करोड़ रुपये थी।

वार्षिक आधार पर, चौथी तिमाही में मारुति का EBITDA 1546.3 करोड़ रुपये से बढ़कर 1991.4 करोड़ हो गया। वहीं, पिछले साल की समान तिमाही से EBITDA मार्जिन 8.5 प्रतिशत से घटकर 8.3 प्रतिशत हो गया।

चौथी तिमाही में कंपनी का सकल लाभ मार्जिन 26.1 प्रतिशत था, जबकि एक साल पहले की तिमाही में यह 29.7 प्रतिशत था। वित्त वर्ष 2021 की दिसंबर तिमाही में कंपनी का सकल लाभ मार्जिन 27.5 प्रतिशत था।

अन्य आय में कमी

मार्च तिमाही में मारुति सुजुकी की अन्य आय में गिरावट आई। इस अवधि के दौरान, अन्य आय 89.8 करोड़ रुपये थी, जबकि पिछले वर्ष की इसी तिमाही में कंपनी की अन्य आय 880.4 करोड़ रुपये थी। वहीं, चौथी तिमाही में कंपनी का टैक्स खर्च पिछले साल की चौथी तिमाही के 284 करोड़ रुपये से घटाकर 141.4 करोड़ रुपये कर दिया गया है।

READ  शेयर बाजार LIVE न्यूज: 350 अंक कमजोर, सेंसेक्स 14800 से नीचे; ये टॉप गेनर, टॉप लूजर होते हैं

45 रुपये प्रति शेयर लाभांश

मारुति सुजुकी ने मार्च तिमाही में शेयरधारकों को 45 रुपये प्रति शेयर लाभांश देने की घोषणा की है। कंपनी ने चौथी तिमाही में 4,92,235 यूनिट्स बेचीं, जो साल-दर-साल 28 फीसदी थीं। इस अवधि के दौरान, कंपनी ने घरेलू बाजार में 4,56,707 इकाइयां बेचीं, जो सालाना आधार पर 26.7 प्रतिशत अधिक थी। चौथी तिमाही में साल दर साल निर्यात में 44 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि हुई।

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम इंडिया न्यूज हिंदी में, और शेयर बाजार, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर बहुत कुछ अन्य ब्रेकिंग न्यूज। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।