बैंक हड़ताल: 15 और 16 मार्च को होने वाली बैंक हड़ताल, SBI सहित सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के कामकाज पर असर

बैंक स्ट्राइक: यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) के बैनर तले 9 यूनियनों ने सोमवार से 15 मार्च यानी आज से 2 दिन की बैंक हड़ताल की है।

बैंक स्ट्राइक हिंदी में: अगर आप भी किसी काम की वजह से बैंक जाने की योजना बना रहे हैं, तो पहले यह खबर पढ़ लें। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) के बैनर तले, 9 यूनियनों ने सोमवार से 15 मार्च यानी आज से 2 दिन की बैंक हड़ताल की है। 2 राज्य के स्वामित्व वाले बैंकों के प्रस्तावित निजीकरण के विरोध में यूनियनों ने इस हड़ताल का आह्वान किया है। अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ (AIBEA) के महासचिव सीएच वेंकटचलम ने दावा किया कि इस हड़ताल में लगभग 10 लाख कर्मचारी और बैंकों के बैंक अधिकारी शामिल होंगे। यह हड़ताल 15 और 16 मार्च को होनी है। भारतीय स्टेट बैंक (SBI) सहित कई सरकारी बैंकों ने अपने ग्राहकों को हड़ताल के कारण कामकाज पर पड़ने वाले प्रभाव की जानकारी दी थी।

बैंक विलय कर रहे हैं

हालांकि, बैंकों ने ग्राहकों को यह भी बताया है कि वे प्रस्तावित हड़ताल के दिन बैंकों और शाखाओं में बेहतर कामकाज के लिए आवश्यक कदम उठा रहे हैं। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2021 के भाषण के दौरान कहा था कि केंद्र सरकार इस साल 2 सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों और एक बीमा कंपनी का निजीकरण करेगी। सरकार ने भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) में वर्ष 2019 में IDBI बैंक (IDBI Bank) में बहुमत हिस्सेदारी बेची। पिछले 4 वर्षों में, 14 सार्वजनिक बैंकों को भी विलय कर दिया गया है। इसके बाद, वर्तमान में देश में 12 सरकारी बैंक हैं। वहीं, वित्त वर्ष 2021-22 में दो बैंकों के निजीकरण के बाद उनकी संख्या 10 हो जाएगी।

वे हड़ताल में हिस्सा ले रहे हैं

यूएफबीयू के सदस्यों में ऑल इंडिया बैंक एम्प्लाइज एसोसिएशन-एआईबीईए, ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कन्फेडरेशन-एआईबीओसी, नेशनल कॉन्फेडरेशन ऑफ बैंक एम्प्लॉइज-एनसीबीई, ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन-एआईबीओए और बैंक एंप्लॉयीज ऑफ इंडिया -BEFI शामिल हैं। इसके अलावा, अन्य हैं INBEF, INBOC, NOBW और NOBO।

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम इंडिया न्यूज हिंदी में, और शेयर बाजार, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर बहुत कुछ अन्य ब्रेकिंग न्यूज। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।

You May Also Like

About the Author: Sumit

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: