बिक्री दबाव में शेयर बाजार; गिरावट क्यों आ रही है, निवेशकों को क्या करना चाहिए?

शेयर बाजार के दृष्टिकोणशेयर बाजार आउटलुक: वित्त वर्ष 2021 के आखिरी महीने में शेयर बाजार पर बिकवाली का दबाव देखा जा रहा है।

शेयर बाजार आउटलुक: वित्त वर्ष 2021 के आखिरी महीने में शेयर बाजार पर बिकवाली का दबाव देखा जा रहा है। 10 मार्च से बाजार में उतार-चढ़ाव बहुत अधिक है। सेंसेक्स अपने रिकॉर्ड ऊंचाई से लगभग 3000 अंकों के नुकसान पर कारोबार कर रहा है। 16 फरवरी 2021 को, सेंसेक्स ने 52516 के सर्वकालिक उच्च स्तर को छुआ। विशेषज्ञों का मानना ​​है कि बॉन्ड यील्ड और कोरोना वायरस के बढ़ते मामले मुख्य रूप से बाजार पर दबाव के लिए जिम्मेदार हैं। इसके अलावा, निफ्टी के लिए 14,450 का स्तर बहुत महत्वपूर्ण है। यदि यह नीचे की ओर टूटता है, तो सुधार तेज हो सकता है। वहीं, अगर बाजार इससे ऊपर रहने में सक्षम है, तो इसमें स्थिरता आ सकती है।

बाजार में बिकवाली का कारण

एसएसीसीओ सिक्योरिटीज की इक्विटी रिसर्च की प्रमुख निराली शाह ने कहा कि पिछले हफ्ते घरेलू बाजार और अमेरिकी बाजार में तेजी का रुख था। जबकि अमेरिकी बाजार हर समय बना रहा था, भारतीय बाजार गिरावट में थे। जबकि यूएस फेड के संकेत के बाद निवेशकों की धारणा में सुधार हुआ कि यह ब्याज दरों में बदलाव नहीं करेगा और बॉन्ड खरीदना जारी रखेगा, बॉन्ड बाजार का व्यवहार बिल्कुल विपरीत था। बॉन्ड यील्ड के साथ कमोडिटी की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं।

उनका कहना है कि इसके अलावा, देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर तेजी से बढ़ रही है, जिससे बाजार में तनाव बढ़ गया है। खुदरा मुद्रास्फीति में वृद्धि भी एक कारक है जो भावना को बिगड़ती है। इन कारणों की वजह से बाजार पर लगातार दबाव बना हुआ है। मार्च में विदेशी निवेशक भी शुद्ध विक्रेता रहे हैं और उन्होंने बाजार से लगातार पैसा निकाला है। घरेलू स्तर पर तरलता में वृद्धि मुख्य रूप से प्राथमिक बाजार में आईपीओ के कारण है। पिछले 7 से 8 दिनों में 6 आईपीओ आए हैं।

निवेशकों को क्या करना चाहिए

निराली शाह का कहना है कि अभी बाजार पर दबाव हो सकता है। ऐसी स्थिति में निवेशकों को सावधानी के साथ कारोबार करने की सलाह दी जाती है। बाजार उन निवेशकों के लिए बेहतर है जो लंबी अवधि के लिए बाजार में निवेश करना चाहते हैं। बाजार अपने शीर्ष स्तर से नीचे आ गया है, ऐसी स्थिति में, 5-10 साल के निवेश लक्ष्य के साथ, किसी को अच्छे और मजबूत फंडामेंटल वाले शेयरों में निवेश करना चाहिए। वहीं, अगर आप मिडटर्म या शॉर्ट टर्म के लिए निवेश करना चाहते हैं, तो बाजार के स्थिर होने का इंतजार करें।

14450 महत्वपूर्ण स्तर

विशेषज्ञों का कहना है कि पिछले दिनों निफ्टी ने 14,450 से 15,350 की रेंज देखी है। तल पर 14,450 का स्तर बहुत महत्वपूर्ण है। यदि यह टूटता है, तो निफ्टी 14000 के स्तर तक कमजोर हो सकता है। लेकिन अगर बाजार इससे ऊपर रहने में कामयाब रहा, तो स्थिरता आगे देखी जाएगी। अभी के लिए, टेडर्स को स्टॉप लॉस लागू करके व्यापार करना चाहिए।

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम इंडिया न्यूज हिंदी में, और शेयर बाजार, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर बहुत कुछ अन्य ब्रेकिंग न्यूज। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।

You May Also Like

About the Author: Sumit

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: