गलत खाते में फंड ट्रांसफर करने के बाद क्या करें, यहां जानिए डिटेल में

पिछले कुछ वर्षों में डिजिटल लेनदेन तेजी से बढ़ा है और बैंकिंग से लेकर खरीदारी तक ऑनलाइन हो रहा है। अब किसी के खाते में पैसे भेजने के लिए बैंक जाने की जरूरत नहीं है, बल्कि आप इसे घर बैठे ही कर सकते हैं। हालांकि कई बार ऐसा भी होता है कि गलती की वजह से पैसा किसी और के खाते में चला जाता है जो आपने नहीं भेजा। इस स्थिति में आपको पैसे वापस मिलने की संभावना है, लेकिन एक प्रक्रिया है। हालांकि, यह जानना बहुत जरूरी है कि गलती से किसी और के खाते में पैसा आ गया है तो उसे तभी वापस किया जा सकता है जब वह व्यक्ति इसके लिए तैयार हो, जिसके खाते में पैसा वापस कर दिया गया हो। बैंक इसमें माध्यम के तौर पर काम करेगा।

यह समस्या ज्यादातर अकाउंट नंबर, IFC कोड या दोनों में टाइपिंग एरर के कारण होती है। अगर किसी अकाउंट नंबर पर पैसा भेजा जाता है जो कि कलाकार द्वारा भी नहीं किया जाता है, तो यह अपने आप वापस आ जाएगा, लेकिन अगर पैसा किसी व्यक्ति के खाते में चला गया है, तो उसके लिए एक प्रक्रिया का पालन करना होगा। अगर बैंक आपकी शिकायत पर कुछ नहीं करता है तो आप लोकपाल के पास जा सकते हैं जो बिना किसी का पक्ष लिए आगे की कार्रवाई सुनिश्चित करेगा।

6 हजार की मासिक किस्त से मिलेगी हर महीने मिलेगी 3000 रुपये की पेंशन, पीएम किसान खाताधारकों को लाभ उठाना चाहिए

गलत ट्रांजेक्शन होने पर तुरंत बैंक को सूचित करें।

  • बैंक डिटेल्स की जानकारी देते हुए यह साबित करना होगा कि आपने पैसे गलत अकाउंट में भेजे हैं।
  • यदि आपने किसी ऐसे व्यक्ति के खाते में पैसा भेजा है जिसका नाम वही है, जिसके खाते में आप पैसे भेजने वाले थे, तो इसका प्रमाण देना होगा।
  • पूरे मामले की सूचना मेल के जरिए बैंक को दें और पूरी प्रक्रिया का ट्रैक रिकॉर्ड रखें।
  • बैंक इस पूरे मामले में एक सूत्रधार के रूप में काम करेगा और आपको उस खाते की शाखा का नाम और संपर्क नंबर का विवरण दे सकता है जिसमें पैसा गया है।
  • यदि आपने किसके खाते में पैसा भेजा है, वह भी उसी बैंक का ग्राहक है जिससे आप संबंधित हैं, तो बैंक आपके लाभार्थी से संपर्क करेगा और आपसे पैसे वापस भेजने का अनुरोध करेगा।
  • यदि लाभार्थी सहमत है, तो धन आपके खाते में 7 कार्य दिवसों में वापस कर दिया जाएगा।
  • यदि लाभार्थी किसी अन्य शाखा से है तो आपको स्वयं उस शाखा में जाकर बैंक प्रबंधक से मिलकर समाधान के लिए उनसे बात करनी होगी।
READ  जमा योजनाएं: बाजार में उतार-चढ़ाव से निवेश को लेकर है अफरातफरी! इन 12 विकल्पों में निवेश करके पाएं उच्च रिटर्न

यदि लाभार्थी राशि वापस करने से इंकार करता है

  • यदि किसी बैंक खाते में गलती से पैसा ट्रांसफर हो जाता है, तो इसे लाभार्थी की सहमति के बिना वसूल नहीं किया जा सकता है।
  • ऐसे में यह प्रक्रिया थोड़ी मुश्किल हो जाती है। अपने बैंक को मामले की पूरी जानकारी दें. आपको बैंक द्वारा मांगी गई आईडी प्रूफ, पता और अन्य जानकारी देनी होगी।
  • इस पूरे मामले में मेल के जरिए संवाद करें ताकि ट्रैक रिकॉर्ड रखने में मदद मिले।
  • यदि लाभार्थी पैसे वापस करने से इनकार करता है तो आप कानूनी कार्रवाई का विकल्प भी चुन सकते हैं।
    (स्रोत- पॉलिसीबाजार.कॉम)

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम इंडिया न्यूज हिंदी में, और शेयर बाजार, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर बहुत कुछ अन्य ब्रेकिंग न्यूज। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।