पेटीएम वीजा भौतिक डेबिट कार्ड जल्द ही पेटीएम पेमेंट्स बैंक वित्त वर्ष २०१२ में ४५ लाख कार्डों पर नजर रखता हैवर्तमान में ग्राहकों को वीज़ा वर्चुअल डेबिट कार्ड जारी किए जाते हैं

पेटीएम पेमेंट्स बैंक वीजा के फिजिकल डेबिट कार्ड लॉन्च करेगा। वर्तमान में पेटीएम पेमेंट्स बैंक भी भौतिक डेबिट कार्ड जारी करता है लेकिन यह रुपे का है। इसके अलावा इस समय ग्राहकों को वीजा के वर्चुअल डेबिट कार्ड भी जारी किए जाते हैं। वीजा के फिजिकल डेबिट कार्ड के जरिए ग्राहकों को 50 लाख वीजा एक्सेप्टेंस प्वाइंट पर खरीदारी की सुविधा मिलेगी। इसके अलावा वे टैप एंड पे के जरिए कॉन्टैक्टलेस ट्रांजैक्शन के लिए भी इनका इस्तेमाल कर सकेंगे।
पेटीएम पेमेंट्स बैंक पहले ही 45 लाख से अधिक वर्चुअल डेबिट कार्ड जारी कर चुका है और अब इस वित्तीय वर्ष 2021-22 के अंत तक 10 लाख भौतिक डेबिट कार्ड जारी करने का लक्ष्य बना रहा है। पेटीएम ने देश में सबसे ज्यादा रुपे डेबिट कार्ड जारी किए हैं।

DGCA : अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक उड़ानों पर रोक बढ़ी, यात्री उड़ानों पर प्रतिबंध 30 जून तक रहेगा जारी

वीज़ा के भौतिक डेबिट कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें

भौतिक कार्ड के लिए आवेदन पेटीएम ऐप के पेटीएम पेमेंट्स बैंक अनुभाग के माध्यम से किया जा सकता है। कार्ड मिलने के बाद आप उसका पिन एक बार सेट कर सकते हैं। इस डेबिट कार्ड के जरिए ग्राहक वीजा ऑफर्स का फायदा उठा सकते हैं। इसके अलावा आप इंटरनेट पेमेंट्स और टैप एंड पे ट्रांजैक्शन जैसी सुविधाओं का भी लाभ उठा सकते हैं।

देश का सबसे बड़ा आईपीओ लाने की तैयारी में पेटीएम, बाजार से 22500 करोड़ रुपये जुटाने की योजना

देश का सबसे बड़ा आईपीओ लाने की तैयारी में पेटीएम

देश की सबसे बड़ी डिजिटल पेमेंट कंपनी पेटीएम अब आईपीओ लाने की तैयारी में है। न्यूज एजेंसी ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक पेटीएम का आईपीओ 30 करोड़ डॉलर यानी करीब 22,500 करोड़ रुपये का हो सकता है। यानी कंपनी आईपीओ के जरिए बाजार से 22500 करोड़ रुपये जुटाना चाहती है। इसके बाद इसका मूल्यांकन बढ़कर 25-30 मिलियन डॉलर यानी 2.25 लाख करोड़ रुपये होने का अनुमान है। आपको बता दें कि पेटीएम की स्थापना साल 2010 में हुई थी। इसके फाउंडर विजय शेखर शर्मा हैं।

READ  हाइब्रिड म्यूचुअल फंड: कम जोखिम के साथ बेहतर रिटर्न, किसे निवेश करना चाहिए?

(अनुच्छेद: सुरभि जैन)

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर बहुत कुछ। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।