पेटीएम बोर्ड ओके भारत की सबसे बड़ी आईपीओ फर्म अगले महीने सेबी के पास 22 हजार करोड़ रुपये के इश्यू पेपर दाखिल कर सकती हैअक्टूबर-दिसंबर 2021 तिमाही में पेटीएम आईपीओ के जरिए 22 हजार करोड़ रुपये जुटा सकती है।

पेटीएम आईपीओ: वन97 कम्युनिकेशंस के स्वामित्व वाले पेटीएम के आईपीओ को लॉन्च करने के प्रस्ताव को कंपनी के बोर्ड ने मंजूरी दे दी है। पेटीएम ने अपने कर्मचारियों और हितधारकों को भेजे पत्र में जानकारी दी है कि बोर्ड ने देश का सबसे बड़ा आईपीओ लाने की मंजूरी दे दी है। इसके अलावा न्यूज एजेंसी ब्लूमबर्ग के मुताबिक कंपनी ने ड्राफ्ट और रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (डीआरएचपी) को भी अंतिम रूप दे दिया है, जिसे अगले महीने जुलाई 2021 में पूंजी बाजार नियामक सेबी के पास दाखिल किया जा सकता है। अक्टूबर-दिसंबर 2021 तिमाही में पेटीएम आईपीओ के जरिए 22 हजार करोड़ रुपये जुटा सकती है। यह देश का सबसे बड़ा आईपीओ साबित होगा।

टीकाकरण से सेहत के साथ-साथ पूंजी की सेहत भी बढ़ेगी, इस बैंक में FD कराने पर मिलेगा 0.3% ज्यादा ब्याज

आईपीओ खबर के 5 दिनों में दोगुने हुए दाम

पेटीएम के आईपीओ की खबर से पहले कंपनी के गैर-सूचीबद्ध बाजार में शेयर की कीमत करीब 11-12 हजार रुपये प्रति शेयर थी। आईपीओ की खबर आने के महज 5 दिनों के भीतर इसकी कीमत 21 हजार रुपये तक पहुंच गई। गैर-सूचीबद्ध शेयरों की कीमतों के आधार पर, कंपनी का मूल्य 1.1 लाख करोड़ रुपये से अधिक हो गया है। तदनुसार, कंपनी का मूल्यांकन बैंकिंग और वित्तीय क्षेत्र की कई अन्य कंपनियों, जैसे इंडसइंड बैंक, बंधन बैंक, पीएनबी, एसबीआई कार्ड्स एंड पेमेंट्स सर्विसेज, एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस और आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल से अधिक हो गया है। हालांकि, पेटीएम का मौजूदा वैल्यूएशन 2019 के वैल्यूएशन से कम है, जिस पर कंपनी ने फंड जुटाया था।

READ  MPPSC प्रारंभिक: MPPSC ने कोरोना के कारण राज्य और वन सेवा परीक्षा स्थगित कर दी, अब इस दिन परीक्षा होगी

कोल इंडिया का अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ

देश में अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ सरकारी कंपनी कोल इंडिया का रहा है। 2010 में कोल इंडिया ने आईपीओ के जरिए 15,200 करोड़ रुपये जुटाए थे। वहीं इससे पहले अनिल अंबानी ग्रुप की कंपनी रिलायंस पावर 11 हजार करोड़ का आईपीओ लेकर आई थी। पिछले साल एसबीआई पेमेंट्स एंड कार्ड्स ने 10,000 करोड़ रुपये का आईपीओ लॉन्च किया था।

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर बहुत कुछ। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।