सरकार ने कहा है कि अगर भविष्य में टीके सस्ते हुए तो निजी अस्पतालों में भी इसकी कीमतों में कमी आएगी।

निजी अस्पताल अब कोरोना के टीकों के मनमाने दाम नहीं ले सकेंगे। सरकार ने टीकों की कीमतें तय कर दी हैं। अब निजी अस्पताल कोविशील्ड के लिए 780 रुपये से अधिक शुल्क नहीं ले सकेंगे। इस पर 5% जीएसटी है और अधिकतम 150 रुपये का सर्विस चार्ज है। जबकि कोवैक्सीन की कीमत 1410 रुपये से ज्यादा नहीं होगी। स्पुतनिक वी की कीमत 1,145 रुपये होगी। सभी टीकों की कीमतों में 5% GST और अधिकतम 150 रुपये का सर्विस चार्ज है। हालांकि, इन नई कीमतों को लेकर भ्रम है क्योंकि Co-Vin प्लेटफॉर्म पर ही Covaccine की कीमत 1200 रुपये लिखी हुई है। ऐसे में , क्या निजी अस्पताल इसके लिए 1200 रुपये चार्ज करेंगे 1450 रुपये?

निजी अस्पतालों में वैक्सीन के अलग-अलग दाम

अभी तक निजी अस्पताल कोरोना वैक्सीन के अलग-अलग दाम वसूल रहे हैं। दिल्ली एनसीआर में निजी अस्पताल कोविशील्ड के लिए 850 रुपये से लेकर 1050 रुपये तक की कीमत वसूल रहे हैं। इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली का मूलचंद अस्पताल वैक्सीन के लिए 1800 रुपये प्रति डोज चार्ज कर रहा है। जबकि नोएडा का फोर्टिस अस्पताल इसके लिए 1250 रुपये चार्ज कर रहा है। कई ग्रुप हाउसिंग सोसायटियां भी निजी अस्पतालों के सहयोग से टीके लगवा रही हैं। कई अस्पताल हाउसिंग सोसायटियों में कैंप लगाकर टीकाकरण के लिए प्रति वैक्सीन 100 से 150 रुपये अतिरिक्त चार्ज कर रहे हैं। यानी जो वैक्सीन अस्पताल में 900 रुपये में लग रही है, वही वैक्सीन सोसायटी में 1000 या 1050 रुपये में लगाई जा रही है.

READ  अंबेडकर जयंती के मौके पर स्टॉक मार्केट बंद है, कमोडिटी का कारोबार शाम को होगा

इनएक्टिवेटेड पोलियो वैक्सीन: सीरम इंस्टिट्यूट की बोली दोगुनी से ज्यादा कीमत, केंद्र सरकार कर सकती है सौदेबाजी

केंद्र ने कहा, राज्य सरकारें देखें कि अस्पताल तय कीमत से ज्यादा शुल्क न लें

केंद्र ने निजी अस्पतालों के लिए कोरोना वैक्सीन की कीमत तय करते हुए कहा है कि राज्य सरकारें देखें कि वे इससे ज्यादा शुल्क न लें. अगर भविष्य में कीमतों में कमी आती है तो निजी अस्पतालों को भी कीमतें कम करने के लिए कहा जाएगा। इस बीच ऐसी खबरें भी आ रही हैं कि सरकार एक ई-वाउचर योजना शुरू कर रही है। इसके तहत कोई भी ई-वाउचर खरीद सकता है और निजी अस्पतालों में जरूरतमंदों के टीके लगवा सकता है।

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर बहुत कुछ। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।