डीजीसीए ने अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक उड़ानों पर प्रतिबंध 30 जून तक बढ़ाया लेकिन यह प्रतिबंध कुछ उड़ानों पर लागू नहीं हैडीजीसीए ने इस सर्कुलर में कहा है कि उपयुक्त प्राधिकारी द्वारा चुनिंदा रूटों पर अंतरराष्ट्रीय अनुसूचित उड़ानों की अनुमति दी जा सकती है। यह अनुमति प्रत्येक मामले पर अलग से विचार करने के बाद दी जा सकती है।

DGCA ने भारत में अनुसूचित अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक यात्री उड़ानों पर प्रतिबंध 30 जून 2021 को रात 11.59 बजे तक बढ़ा दिया है। इससे पहले अप्रैल में इसे 31 मई की रात 11:59 तक बढ़ा दिया गया था। डीजीसीए ने शुक्रवार को इस संबंध में एक सर्कुलर जारी किया। हालांकि, विमान नियामक द्वारा जारी सर्कुलर में कहा गया है कि यह प्रतिबंध अंतरराष्ट्रीय कार्गो संचालन और डीजीसीए द्वारा विशेष रूप से अनुमोदित उड़ानों पर लागू नहीं होगा।

डीजीसीए ने इस सर्कुलर में कहा है कि उपयुक्त प्राधिकारी द्वारा चुनिंदा रूटों पर अंतरराष्ट्रीय अनुसूचित उड़ानों की अनुमति दी जा सकती है। यह अनुमति प्रत्येक मामले पर अलग से विचार करने के बाद दी जा सकती है।

कोविड-19 आरटी-पीसीआर टेस्ट के लिए सैंपल लेना होगा आसान, नीरी ने खोजा नया तरीका, जल्द मिलेंगे नतीजे

पिछले साल मार्च से सेवाएं निलंबित

कोरोना वायरस महामारी के कारण अनुसूचित अंतरराष्ट्रीय यात्री सेवाएं 23 मार्च 2020 से निलंबित हैं। लेकिन वंदे भारत मिशन के तहत मई से और जुलाई से द्विपक्षीय एयर बबल अरेंजमेंट के तहत विशेष अंतरराष्ट्रीय उड़ानें संचालित हो रही हैं। भारत ने यूएस, यूके, यूएई, केन्या, भूटान और फ्रांस सहित 27 देशों के साथ एयर बबल समझौता किया है। दोनों देशों के बीच एयर बबल समझौते के तहत, उनकी एयरलाइंस क्षेत्रों के बीच विशेष अंतरराष्ट्रीय उड़ानें संचालित कर सकती हैं।

See also  Realme लैपटॉप फर्स्ट लुक: भारत में Realme का पहला लैपटॉप जल्द लॉन्च होने की उम्मीद, पहला लुक मैकबुक एयर की याद दिलाता है

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और बहुत कुछ फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।