एसआईपी टॉप-अप कैलकुलेटरएसआईपी टॉप-अप कैलकुलेटर: टॉप-अप एसआईपी भी म्यूचुअल फंड में उपलब्ध एक सुविधा है, जिसके माध्यम से आप हर साल अपने मौजूदा एसआईपी को बढ़ा सकते हैं।

एसआईपी टॉप-अप कैलकुलेटर: म्यूच्यूअल फण्ड में सिस्टेमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) के माध्यम से निवेश करना बहुत लोकप्रिय है। SIP के जरिए आप म्यूचुअल फंड स्कीम में एकमुश्त निवेश की जगह हर महीने एक तय रकम निवेश कर सकते हैं। वहीं, टॉप-अप एसआईपी भी म्यूचुअल फंड में उपलब्ध एक सुविधा है, जिसके जरिए आप हर साल अपने मौजूदा एसआईपी को बढ़ा सकते हैं। यह वृद्धि या तो एसआईपी की राशि का प्रतिशत हो सकती है या यह एक निश्चित राशि हो सकती है।

उदाहरण से समझें

मान लीजिए आपने अभी-अभी चुनी हुई म्यूचुअल फंड SIP स्कीम में हर महीने 5000 रुपये का निवेश किया है। अगर अगले साल आपकी सैलरी बढ़ती है तो आपके निवेश की क्षमता बढ़ती है। ऐसे में आप SIP टॉप-अप का विकल्प चुन सकते हैं। एक वर्ष पूरा होने पर आप अपनी आय में वृद्धि के आधार पर उस राशि को बढ़ा सकते हैं। यह वृद्धि हर साल किसी भी चीज का 10 प्रतिशत या 20 प्रतिशत हो सकती है। अगर आप अगले साल 10 फीसदी की बढ़ोतरी करते हैं तो आपको दूसरे साल से हर महीने 5500 रुपये का निवेश करना होगा। इसी तरह, हर साल के बाद राशि में वृद्धि होगी। यह सुविधा लगभग सभी म्यूच्यूअल फण्ड हाउस द्वारा प्रदान की जाती है। लेकिन उनके अलग नियम हो सकते हैं। उदाहरण के लिए, एसबीआई म्यूचुअल फंड एसआईपी को केवल 500 रुपये के अनुपात में बढ़ाने की अनुमति देता है।

READ  बीसीसीआई ने डब्ल्यूटीसी फाइनल और इंग्लैंड टेस्ट के लिए टीम की घोषणा की, शॉ को आईपीएल के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के बावजूद जगह नहीं मिली

कम जोखिम में बेहतर रिटर्न

कम जोखिम के साथ लंबी अवधि में अपनी संपत्ति बढ़ाने के लिए यह एक बेहतर निवेश तरीका है। विशेषज्ञ एसआईपी को निवेश का एक सुरक्षित तरीका मानते हैं, जिसमें एकमुश्त ब्लॉक करने के बजाय मासिक आधार पर निवेश करने का विकल्प होता है। इसलिए अगर बाजार में किसी तरह का जोखिम है तो उसका बचाव किया गया है।

नियमित एसआईपी से बेहतर

केस -1: नियमित एसआईपी

मासिक एसआईपी: 10,000 रुपये
अवधि: 20 वर्ष
अनुमानित रिटर्न: 12%
कुल निवेश: रु 24 लाख
20 साल बाद SIP वैल्यू: 49.91 लाख रुपये
लाभ: 25.91 लाख रुपये

केस-2: एसआईपी टॉप-अप

शुरुआती मासिक निवेश: 10,000 रुपये
अवधि: 20 वर्ष
अनुमानित रिटर्न: 12%
हर 1 साल में 10% टॉप अप: 1000 रु
कुल निवेश: 68.73 लाख रुपये
20 साल बाद SIP वैल्यू: 1.99 करोड़
लाभ: 1.30 करोड़ रुपये

यहां साफ है कि अगर एसआईपी में टॉप अप होता है तो 20 साल के दौरान करीब 44.5 लाख रुपये का निवेश रेगुलर एसआईपी से ज्यादा होता है। लेकिन 20 साल बाद मूल्य में करीब 1 करोड़ का अंतर आएगा। 10,000 रुपये के नियमित एसआईपी में आपको 20 साल बाद 99.91 लाख रुपये मिलेंगे। वहीं, एसआईपी टॉप में 1.99 करोड़ रुपये।

(नोट: हम यहां म्यूचुअल फंड में निवेश करने का सुझाव नहीं दे रहे हैं। यहां एसआईपी कैलकुलेटर पर आधारित एक जानकारी है। बाजार में जोखिम हैं, इसलिए निवेश करने से पहले विशेषज्ञ से सलाह लें।)

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और बहुत कुछ फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।

READ  होली 2021: व्हाट्सएप पर अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को स्टिकर भेजें, इस तरह से डाउनलोड करें