राकेश झुनझुनवाला ने टाइटन में घटाई हिस्सेदारी लेकिन पिछले एक महीने में इसके शेयरों में तेजी आई है

चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में जब बिग बुल राकेश झुनझुनवाला ने टाटा समूह की पसंदीदा शेयर टाइटन कंपनी में अपनी हिस्सेदारी घटाई तो बाजार पर नजर रखने वाले दंग रह गए। झुनझुनवाला ने इस कंपनी के शेयर में अपनी हिस्सेदारी 0.30 फीसदी कम की थी. लेकिन पिछले एक महीने में इस शेयर में 12 फीसदी की तेजी आई है. शेयर बाजार पर नजर रखने वालों का मानना ​​है कि राकेश झुनझुनवाला की हिस्सेदारी घटाने से इस शेयर पर ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा. इसमें अभी और बढ़त हो सकती है।

टाइटन के ज्वैलरी और नॉन ज्वैलरी सेगमेंट ने अच्छा प्रदर्शन किया

विश्लेषकों के मुताबिक, टाइटन ने वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही में उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन किया है। जून 2021 में लॉकडाउन में ढील दिए जाने के बाद से इसमें शानदार रिकवरी हुई है। कंपनी के ज्वैलरी और नॉन ज्वैलरी सेगमेंट दोनों ने अच्छा प्रदर्शन किया है। बिक्री और सकल मार्जिन के मामले में पिछले वित्त वर्ष की तुलना में इसने अच्छा प्रदर्शन किया है। ज्वैलरी हॉलमार्किंग नियमों को अनिवार्य बनाने से टाइटन को भी फायदा होगा। कंपनी के ज्वैलरी और नॉन ज्वैलरी दोनों कारोबार के ग्राहकों का स्तर प्री-कोविड स्तर पर पहुंच गया है और अब इसके और बढ़ने की उम्मीद है। ब्रांड, ग्राहक विश्वास, बाजार की स्थिति और बैलेंस शीट के मामले में टाइटन की स्थिति बहुत मजबूत दिखती है। इसलिए आने वाले दिनों में इसके शेयरों में और तेजी की उम्मीद है।

See also  प्रॉपर्टी मार्केट रिपोर्ट: हाउसिंग मार्केट में रिकवरी शुरू, देश के सात शहरों में घरों की बिक्री 23 फीसदी बढ़ी

झुनझुनवाला पोर्टफोलियो अपडेट: झुनझुनवाला के पसंदीदा शेयरों में 8% की गिरावट; क्या यह निवेश का अवसर है या निकास? जानिए एक्सपर्ट की राय

टाइटन में झुनझुनवाला की 3.72 फीसदी हिस्सेदारी

टाइटन कंपनी के शेयरधारिता पैटर्न के मुताबिक वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही में राकेश झुनझुनवाला और उनकी पत्नी रेखा झुनझुनवाला की कंपनी में करीब चार फीसदी हिस्सेदारी है। राकेश झुनझुनवाला के पास फिलहाल कंपनी में 3.72 फीसदी हिस्सेदारी है। वहीं, टाइटन में उनकी पत्नी रेखा झुनझुनवाला की 1.09 फीसदी हिस्सेदारी है। कंपनी में रेखा झुनझुनवाला के 96,40,575 शेयर हैं।

(कहानी में दी गई स्टॉक सिफारिशें संबंधित शोध विश्लेषकों और ब्रोकरेज फर्मों की हैं। फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन इसकी कोई जिम्मेदारी नहीं लेती है। पूंजी बाजार में निवेश जोखिम के अधीन है। कृपया निवेश करने से पहले अपने सलाहकार से परामर्श लें।)

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और बहुत कुछ फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, हमारा अनुसरण इस पर कीजिये ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।