आपकी कार में हो सकता है कोई खतरनाक संक्रमण, जानिए कैसे करें खुद को बचाएंक्या आप जानते हैं कि कार का स्टीयरिंग व्हील टॉयलेट सीट से भी ज्यादा गंदा हो सकता है।

कैसे करें कार की सफाई: अब 15-16 महीने की महामारी से गुजरने के बाद हमें अपने घर में सबसे ज्यादा सुरक्षित मिलता है। इसके बाद आपकी दूसरी सुरक्षित जगह आपकी कार होती है। पूरा केबिन स्पेस आपका है और आप उन सभी चीजों को जानते हैं जिन्हें आप उस जगह पर छूएंगे। लेकिन कोई भी स्थान, जो स्पष्ट रूप से दिखाई देता है, यदि हम ध्यान न दें तो वह स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। क्या आप जानते हैं कि कार का स्टीयरिंग व्हील टॉयलेट सीट से भी ज्यादा गंदा हो सकता है। आइए जानते हैं ऐसी ही कुछ जगहों के बारे में।

स्टीयरिंग व्हील

एक रिपोर्ट के मुताबिक, स्मार्टफोन की स्क्रीन टॉयलेट से 3-10 गुना ज्यादा गंदी होती है और कार के बॉडी व्हील की हालत और भी खराब होती है। यूके की एक वाहन खरीदार कंपनी द्वारा किए गए शोध से पता चलता है कि कारों का इंटीरियर हमारे स्मार्टफोन की तुलना में 2,144 प्रतिशत अधिक गंदा हो सकता है।

चटाई

यहां जूते जाते हैं और इनके जरिए जमीन से बैक्टीरिया भी साथ जाते हैं। बच्चे छोटी-छोटी चीजें भी यहीं गिरा देते हैं।

चालक की सीट

ड्राइवर की सीट और उसके आस-पास जैसे दरवाज़े का हैंडल भी महत्वपूर्ण है। चालक स्टीयरिंग व्हील पर छींकता है, कुछ चिप्स खाता है और फिर पहिया पर अपना हाथ डालता है या दरवाज़े के हैंडल का उपयोग करता है, या नाक में उंगली करने जैसी गंदी आदत हो सकती है।

READ  अनिल अंबानी की रिलायंस कैपिटल बॉन्ड धारकों के हित में चूक, दो बैंकों की किस्तें 12 वीं बार भुगतान करने में विफल रहीं

सीटों के बीच की जगह

आप जितना ध्यान रखते हैं, खाने के टुकड़े सीटों के बीच की जगह में चले जाते हैं। खाने के टुकड़े गहरी जगहों में फंस जाते हैं, जहां बैक्टीरिया के पनपने का बड़ा खतरा होता है।

10 लाख से कम में टर्बो पेट्रोल इंजन वाली टॉप SUV, जानें फीचर्स और कीमत

ऐसी स्थिति में क्या करें?

  • रबर मैट की जगह फैब्रिक मैट का इस्तेमाल करें। इन्हें साबुन और पानी से साफ करना आसान होता है।
  • स्टीयरिंग व्हील और सीट के आसपास के क्षेत्र को एंटी-बैक्टीरियल वाइप या किसी अन्य कार क्लीनर से नियमित रूप से साफ करें।
  • हर साल एयर कंडीशनिंग यूनिट फिल्टर बदलें।
  • केबिन में सतहों पर कीटाणुनाशक स्प्रे का प्रयोग करें, जो वायरस को भी मारता है।

(कहानी: अभिलाषा सिंह)

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और बहुत कुछ फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।