विजया डायग्नोस्टिक्स का आईपीओ कल खुलेगा ग्रे मार्केट प्रीमियम कमजोर, क्या आपको सब्सक्राइब करना चाहिएआईपीओ खुलने से पहले कंपनी के शेयर ग्रे मार्केट में 30 रुपये प्रति शेयर के प्रीमियम पर कारोबार कर रहे हैं.

विजया डायग्नोस्टिक्स आईपीओ: कल 1 सितंबर को एमी ऑर्गेनिक्स के साथ विजया डायग्नोस्टिक्स का आईपीओ भी सब्सक्रिप्शन के लिए खुलेगा। 1894 करोड़ रुपये के इस आईपीओ के तहत कोई नया शेयर जारी नहीं किया जाएगा और ऑफर फॉर सेल (ओएफएस) के तहत 3.56 करोड़ शेयर जारी किए जाएंगे। आईपीओ खुलने से पहले कंपनी के शेयर ग्रे मार्केट में 30 रुपये प्रति शेयर के प्रीमियम पर कारोबार कर रहे हैं. जानकारी के मुताबिक ओएफएस के तहत डॉ. एस सुरेंद्रनाथ रेड्डी 50.98 लाख शेयर, काराकोरम लिमिटेड 2.94 करोड़ इक्विटी शेयर और केदारा कैपिटल अल्टरनेटिव इन्वेस्टमेंट फंड-केदारा कैपिटल एआईएफ1 सबसे ज्यादा 11.02 लाख शेयर बेचेगा. 1.5 लाख इक्विटी शेयर कर्मचारियों के लिए आरक्षित हैं।

एमी ऑर्गेनिक्स आईपीओ: एमी ऑर्गेनिक्स का आईपीओ कल खुलेगा; कंपनी में निवेश करें या नहीं, जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट

मुद्दे से संबंधित विवरण

  • 1895.04 करोड़ रुपये के इस आईपीओ के तहत 1 रुपये अंकित मूल्य वाले शेयरों का प्राइस बैंड 522-531 रुपये प्रति शेयर रखा गया है। कंपनी के कर्मचारियों को प्रति शेयर 52 रुपये की छूट मिलेगी।
  • इश्यू के लिए लॉट साइज 28 शेयरों के लिए रखा गया है यानी निवेशकों को प्राइस बैंड की ऊपरी कीमत के हिसाब से कम से कम 14868 रुपये का निवेश करना होगा।
  • इस आईपीओ के शेयरों का आवंटन 8 सितंबर को अंतिम हो सकता है और इसके शेयरों को 14 सितंबर को बाजार में सूचीबद्ध किया जा सकता है।
  • आईपीओ का लगभग 50 प्रतिशत क्यूआईबी (योग्य संस्थागत खरीदारों) के लिए आरक्षित है, 15 प्रतिशत गैर-संस्थागत निवेशकों के लिए और 35 प्रतिशत निवेशकों के लिए आरक्षित है।
See also  पेटीएम के घाटे में 42 फीसदी की गिरावट, लेकिन रेवेन्यू भी घटा

सुप्रीम कोर्ट का फैसला: सुपरटेक के दो टावरों को गिराने का सुप्रीम ऑर्डर, तीन महीने में पूरी होगी कार्रवाई

IPO सब्सक्रिप्शन को लेकर ये है एक्सपर्ट्स की राय

  • क्रिसिल की रिपोर्ट के अनुसार वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए परिचालन राजस्व और राजस्व के मामले में सबसे तेजी से बढ़ती नैदानिक ​​श्रृंखला के मामले में विजया डायग्नोस्टिक सेंटर दक्षिण भारत में सबसे बड़ी एकीकृत डायग्नोस्टिक श्रृंखला है।
  • मारवाड़ी शेयर्स एंड फाइनेंस लिमिटेड के विश्लेषकों के अनुसार, वित्त वर्ष २०११ के लिए ८.२६ रुपये के ईपीएस (प्रति शेयर आय) को आधार के रूप में लेते हुए, कंपनी ५४१४४ करोड़ रुपये के मार्केट कैप के साथ ६४.२६ के पी/ई पर सूचीबद्ध हो सकती है, जबकि पियर्स डॉ लाल पैथोलैब्स का पी/ई 80.66 पर और मेट्रोपोलिस हेल्थकेयर 56.55 के पी/ई पर कारोबार कर रहा है। एनालिस्ट्स के मुताबिक कंपनी भारतीय डायग्नोस्टिक्स इंडस्ट्री में ग्रोथ में दमदार पोजिशन दिखा रही है, जिसके चलते ब्रोकरेज फर्म ने इसे सब्स्क्राइब्ड रेटिंग दी है।
  • दूसरी ओर, ऐंजल ब्रोकिंग के इक्विटी रिसर्च एनालिस्ट यश गुप्ता का मानना ​​है कि इस आईपीओ की कीमत हाल ही में लिस्टेड डायग्नोस्टिक कंपनियों के ऊपरी स्तर पर है। गुप्ता के मुताबिक, आईपीओ की कीमत वित्त वर्ष २०११ में कंपनी की कमाई (मूल्य से कमाई) का ६४ गुना है। इस वजह से एंजेल ब्रोकिंग इस मुद्दे पर तटस्थ है।
  • कुशल कार्यबल की कमी, तकनीकी उन्नति की उच्च लागत, कड़ी प्रतिस्पर्धा और दक्षिण भारत में उपस्थिति के कारण कोटक सिक्योरिटीज ने कंपनी में निवेश करने का जोखिम उठाया है। ब्रोकरेज फर्म ने इस इश्यू को कोई रेटिंग नहीं दी है।
    (अनुच्छेद: क्षितिज भार्गव)
    (कहानी में दी गई स्टॉक सिफारिशें संबंधित शोध विश्लेषकों और ब्रोकरेज फर्मों की हैं। फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन इसकी कोई जिम्मेदारी नहीं लेती है। पूंजी बाजार में निवेश जोखिम के अधीन हैं। कृपया निवेश करने से पहले अपने सलाहकार से परामर्श लें।)
See also  मारुति सुजुकी की इन कारों पर मिलेगी भारी छूट, देखें ऑफर की पूरी जानकारी यहां

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, हमारा अनुसरण इस पर कीजिये ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।