क्या आपको एयरटेल स्टॉक खरीदना चाहिएक्या आपको एयरटेल स्टॉक खरीदना चाहिए: वित्त वर्ष 2021 की चौथी तिमाही के नतीजों के बाद एयरटेल के शेयरों में गिरावट देखने को मिल रही है।

क्या आपको एयरटेल स्टॉक खरीदना चाहिए: वित्त वर्ष 2021 की चौथी तिमाही के नतीजों के बाद एयरटेल के शेयरों में गिरावट देखने को मिल रही है। मंगलवार यानी 18 मई के कारोबार में एयरटेल में करीब 2 फीसदी की कमजोरी देखी गई और यह 537 रुपये तक कमजोर हुआ। सोमवार को परिणाम। Airtel के एवरेज रेवेन्यू पर यूजर (ARPU) में कुछ कमी आई है। वहीं, स्पेक्ट्रम में निवेश की वजह से खर्च बढ़ा है। हालांकि मार्च तिमाही में कंपनी को 759 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ। कंपनी की आय भी बढ़ी है। तिमाही नतीजों के बाद ज्यादातर ब्रोकरेज हाउस स्टॉक आउटलुक को लेकर सकारात्मक दिख रहे हैं।

कंपनी को 759 करोड़ का मुनाफा

भारती एयरटेल ने चौथी तिमाही में 759 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया। पिछले साल की समान तिमाही में कंपनी को 5,237 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। वहीं, चौथी तिमाही में बंशी एयरटेल की कंसो आय सालाना आधार पर 12 फीसदी बढ़कर 25,747 करोड़ रुपये हो गई। एक साल पहले इसी तिमाही में कंपनी का राजस्व 23,019 करोड़ रुपये था। तिमाही आधार पर राजस्व में 3 फीसदी की कमी आई है।

एआरपीयू कमी

मार्च 2021 तिमाही में एयरटेल का औसत राजस्व प्रति उपयोगकर्ता (ARPU) 5.8 प्रतिशत गिरकर 145 रुपये प्रति उपयोगकर्ता हो गया। पिछले साल की समान तिमाही में यह प्रति उपयोगकर्ता 154 रुपये था। दरअसल, मार्केट रेगुलेटर ने इसी साल 1 जनवरी से इंटरकनेक्ट चार्ज हटा दिया था, जिससे एआरपीयू में कमी आई है। हालांकि, भारती एयरटेल ने मार्च 2021 तिमाही में अधिक ग्राहक जोड़े। मार्च तिमाही में करीब 1.4 करोड़ 4जी ग्राहक जुड़े। इस दौरान डेटा का इस्तेमाल भी बढ़ा है।

READ  Share Market LIVE Update in Hindi: गिरावट के साथ खुल सकता है बाजार, अमेरिका और एशियाई बाजारों में बिकवाली का असर देखा जा सकता है

EBITDA में वृद्धि

उम्मीद के मुताबिक चौथी तिमाही में एयरटेल का EBITDA तिमाही-दर-तिमाही 2.3 फीसदी बढ़कर 12330 करोड़ रुपये हो गया। मोबाइल इंडिया का एबिटडा 4 फीसदी बढ़ा है। तिमाही आधार पर एबिटडा मार्जिन 240bp बढ़कर 47.9 प्रतिशत हो गया। EBITDA में EBITDA में 32 प्रतिशत की वृद्धि हुई है और पिछली 4 तिमाहियों में टैरिफ में वृद्धि के बिना ARPU के मोर्चे पर सकारात्मक संकेत हैं।

शेयर खरीदें या बेचें

ब्रोकरेज हाउस यूबीएस ने एयरटेल में निवेश की सिफारिश करते हुए 655 रुपये का लक्ष्य रखा है। वहीं, सीएलएसए ने भी खरीदारी की सलाह दी है और 730 रुपये का लक्ष्य रखा है। ब्रोकरेज हाउस सिटी ने एयरटेल में निवेश करने की सलाह दी है और 685 रुपये का लक्ष्य रखा है। ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि मार्च तिमाही में एयरटेल का प्रदर्शन अच्छा रहा है। कई मोर्चे पर जियो से बेहतर। कंपनी ने उम्मीद से ज्यादा 4जी डेटा सब्सक्राइबर जोड़े हैं। हालांकि, इंडिया मोबाइल एबिटडा उम्मीद से कुछ कमजोर रहा है।

(नोट: हमने यहां कंपनी के तिमाही प्रदर्शन और ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट के आधार पर जानकारी दी है। बाजार के जोखिम को देखते हुए निवेश करने से पहले अपने स्तर के विशेषज्ञों से सलाह जरूर लें।)

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और बहुत कुछ फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।