एचडीएफसी लाइफ एक्साइड लाइफ इंश्योरेंस में 100 प्रतिशत हिस्सेदारी हासिल करेगी ग्राहकों को यह जानने की जरूरत हैदोनों बीमा कंपनियों के ग्राहकों पर प्रस्तावित सौदे के प्रभाव के बारे में कहा गया है कि इससे ग्राहकों को अधिक उत्पाद और सेवा स्पर्श बिंदु मिलेंगे।

देश की सबसे बड़ी सूचीबद्ध निजी बीमा कंपनी एचडीएफसी लाइफ ने शुक्रवार 3 सितंबर को एक्साइड लाइफ को खरीदने का ऐलान किया है। एचडीएफसी लाइफ इंश्योरेंस कंपनी, एक्साइड लाइफ और एक्साइड इंडस्ट्रीज के निदेशक मंडल ने अपनी-अपनी बैठकों में सौदे को मंजूरी दे दी है। दोनों बीमा कंपनियों के ग्राहकों पर इस सौदे के प्रभाव के बारे में कहा गया है कि इससे ग्राहकों को अधिक उत्पाद और सेवा स्पर्श बिंदु मिलेंगे। डील के बाद एचडीएफसी लाइफ बड़ी और मजबूत हो जाएगी, जिसका फायदा कर्मचारियों और एजेंटों को मिलेगा।

सौदे के तहत, एचडीएफसी लाइफ को एक्साइड लाइफ में 100 फीसदी हिस्सेदारी मिलेगी और इसे एक्साइड इंडस्ट्रीज द्वारा 685 रुपये की कीमत पर 8,70,22,222 रुपये में जारी किया जाएगा। इसके अलावा, एचडीएफसी लाइफ का नकद भुगतान भी करेगा। 726 करोड़ रुपये यानी इस सौदे की कुल कीमत 6687 करोड़ रुपये है। अधिग्रहण और फिर विलय की पूरी प्रक्रिया को नियामक और अन्य मंजूरी लेनी होगी। सौदे के लिए बीमा नियामक इरडा, प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई), एनसीएलटी और एचडीएफसी लाइफ और एक्साइड इंडस्ट्रीज के शेयरधारकों से मंजूरी की आवश्यकता होगी।

HRA: कंपनी HRA नहीं देती है तो भी किराए पर मिल सकती है टैक्स छूट, जानें क्या हैं इससे जुड़े नियम

एचडीएफसी लाइफ के एजेंसी कारोबार में तेजी आने की उम्मीद

प्रस्तावित सौदे से एचडीएफसी लाइफ के एजेंसी कारोबार को बढ़ावा मिलेगा। एक्साइड लाइफ की दक्षिण भारत में मजबूत उपस्थिति है, जिसके अधिग्रहण से कई क्षेत्रों में एचडीएफसी लाइफ की उपस्थिति बढ़ेगी। एक्साइड लाइफ की टियर 1 और टियर 2 शहरों में मजबूत उपस्थिति है। इसके अलावा, बेहतर गुणवत्ता, मुख्य रूप से पारंपरिक और सुरक्षा केंद्रित व्यवसाय एचडीएफसी लाइफ के एम्बेडेड मूल्य में 10 प्रतिशत की वृद्धि करेगा। एचडीएफसी लाइफ की एडवाइजरी फर्म के मुताबिक, 30 जून 2021 तक इसकी एम्बेडेड वैल्यू 2711 करोड़ रुपये थी।

See also  डीए हाइक: डीए बढ़ने से केंद्रीय कर्मचारियों के वेतन में 30 हजार रुपये की बढ़ोतरी की उम्मीद, उपभोक्ता मांग को मिलेगा 1 लाख करोड़ का बूस्टर

मारुति सुजुकी वापस बुलाएगी ढाई लाख से ज्यादा कारें, जानिए क्या आपकी कार इसमें नहीं है

यह डील सभी स्टेकहोल्डर्स के लिए वैल्यू क्रिएटिव साबित होगी।

एचडीएफसी लाइफ के चेयरमैन दीपक एस पारेख ने इस सौदे को भारतीय जीवन बीमा उद्योग में एक मील का पत्थर बताया और कहा कि इससे अधिक लोगों को बीमा के दायरे में लाने और लोगों को वित्तीय सुरक्षा सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी। एचडीएफसी लाइफ की एमडी और सीईओ विभा पडलकर के मुताबिक, मर्जर ग्राहकों, कर्मचारियों, शेयरधारकों और डिस्ट्रीब्यूशन पार्टनर्स के लिए वैल्यू क्रिएटिव साबित हो सकता है। एक्साइड लाइफ इंश्योरेंस के चेयरमैन और एक्साइड इंडस्ट्रीज के वाइस चेयरमैन राजन बी रहेजा के मुताबिक, स्टेकहोल्डर्स की वैल्यू बढ़ाने के लिए यह फैसला लिया गया है। रहेजा ने कहा कि यह सभी हितधारकों के लिए फायदेमंद साबित होगा क्योंकि एचडीएफसी लाइफ ने वैल्यू क्रिएशन में अपना ट्रैक रिकॉर्ड साबित किया है।

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, हमारा अनुसरण इस पर कीजिये ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।