अमेज़ॅन इंडिया आईनॉक्स लीजर में हिस्सेदारी खरीदना चाहता है अन्य जेफ बेजोस मीडिया सौदेबाजी की तलाश में हैंअगर एंटरटेनमेंट स्पेस में Amazon की डील पूरी हो जाती है, तो वह अपना फोकस ई-कॉमर्स से एंटरटेनमेंट स्पेस पर शिफ्ट कर सकती है। (छवि- रॉयटर्स)

अमेज़ॅन पर खरीदारी करने और अमेज़ॅन प्राइम पर फिल्में या वेब श्रृंखला देखने के अलावा, आप निकट भविष्य में इसके मल्टीप्लेक्स में बैठकर फिल्में भी देख सकते हैं। अमेज़ॅन इंडिया के मनोरंजन व्यवसाय में विविधता लाने के लिए देख रहे हैं। इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, अमेज़ॅन कई फिल्म और मीडिया वितरण खिलाड़ियों का अधिग्रहण कर सकता है, जिसमें आईनॉक्स लेजर भी शामिल है, जो देश की सबसे बड़ी मल्टीप्लेक्स श्रृंखलाओं में से एक है। कोरोना महामारी के चलते लगाए गए लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों से मल्टीप्लेक्स चेन बुरी तरह प्रभावित हुई हैं। अब दुनिया के सबसे अमीर आदमी जेफ बेजोस के स्वामित्व वाली अमेजन की भारती इकाई इनमें से कुछ व्यवसायों में हिस्सेदारी खरीदने पर विचार कर रही है। इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, इसमें शामिल कारोबार में आईनॉक्स लीजर भी शामिल है। हालांकि, आईनॉक्स लेजर ने बीएसई फाइलिंग में स्पष्ट किया कि अमेजन और आईनॉक्स लेजर लिमिटेड के बीच ऐसी कोई बातचीत नहीं चल रही है और न ही इससे पहले कोई बातचीत हुई है।

Amazon Prime OTT की ग्रोथ उम्मीद से कम है

Amazon 2016 से भारत में एक ओवर-द-टॉप (OTT) कंटेंट बिजनेस का संचालन कर रहा है, लेकिन यह उतना नहीं बढ़ा है, जितना कंपनी को उम्मीद थी। पिछले साल 2020 के पहले छह महीनों के बाद Amazon Prime की ग्रोथ बेहतर रही थी, लेकिन उसके बाद इसका परफॉर्मेंस कंपनी की उम्मीद के मुताबिक नहीं रहा। इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी एंटरटेनमेंट बिजनेस स्पेस में तीन से चार सौदों के लिए चर्चा कर रही है, जिनमें से कुछ स्ट्रेस्ड एसेट्स हैं।

See also  सेबी ने कोटक महिंद्रा एएमसी की खिंचाई की, अगले छह महीनों के लिए किसी भी निश्चित परिपक्वता योजना के लॉन्च पर रोक लगाई

रोलेक्स रिंग्स आईपीओ: रोलेक्स रिंग्स का आईपीओ कल खुलेगा, 30 जुलाई तक बोलियां लगाई जा सकती हैं

आइनॉक्स लीजर महामारी से बुरी तरह प्रभावित है

पिछले साल 2020 में महामारी की शुरुआत के बाद से आईनॉक्स लेजर को घाटा हो रहा है। जनवरी-मार्च तिमाही में कंपनी को 90 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ था, जो पिछले साल की इसी तिमाही की तुलना में 75 प्रतिशत कम था। सामग्री की कमी के कारण आईनॉक्स के राजस्व में गिरावट आई है। कंपनी को 93.7 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था। आईसीआईसीआई डायरेक्ट के विश्लेषकों के मुताबिक, राजस्व में गिरावट से आईनॉक्स लेजर को चालू वित्त वर्ष 2021-22 में 235 करोड़ रुपये का नुकसान हो सकता है। आईनॉक्स लेजर के देश भर में 153 मल्टीप्लेक्स और 648 स्क्रीन हैं। इनमें से अधिकांश देश के पश्चिमी भाग में हैं। सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली इस मल्टीप्लेक्स चेन में 30 जून तक प्रमोटरों की 43.63 फीसदी हिस्सेदारी है। इसके शेयर आज 6.24 फीसदी की तेजी के साथ 321.85 रुपये के भाव पर कारोबार कर रहे हैं।

विंडोज 11 के फेक अपडेट से सावधान! इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो साइबर अपराधी उठा सकते हैं फायदा

एंटरटेनमेंट स्पेस में फोकस बढ़ा सकते हैं

Amazon India ने महामारी से ठीक पहले भारतीय कारोबार में 15 करोड़ डॉलर (11.15 हजार करोड़ रुपये) का निवेश किया था। इस फंड का अधिकांश हिस्सा ई-कॉमर्स कारोबार में निवेश किया गया था। इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, अगर एंटरटेनमेंट स्पेस में Amazon की डील पूरी हो जाती है, तो वह अपना फोकस ई-कॉमर्स से एंटरटेनमेंट स्पेस पर शिफ्ट कर सकती है। ई-कॉमर्स स्पेस में सरकारी नीतियों में बदलाव और मुकेश अंबानी की रिलायंस रिटेल और वॉलमार्ट की फ्लिपकार्ट को अमेजन के लिए कड़ी चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। एमेजॉन ने पहले अमेरिकी मूवी थिएटर चेन एएमसी में हिस्सेदारी खरीदने के लिए बातचीत शुरू की थी, लेकिन बात आगे नहीं बढ़ी।

See also  विंडोज 11 में यूजर्स कर सकेंगे एंड्राइड ऐप्स का इस्तेमाल, जानें इससे जुड़ी हर डिटेल

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर बहुत कुछ। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।