ईपीएफ खाते से बाहर निकलने की तारीख कैसे अपडेट करें, इन आसान चरणों का पालन करेंअगर आप भी अपने पीएफ खाते में निकासी की तारीख दर्ज करना चाहते हैं तो इसकी प्रक्रिया ऑनलाइन होने के साथ-साथ बेहद आसान है।

ईपीएफ खाते से बाहर निकलने की तारीख कैसे अपडेट करें: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) अपने सदस्य कर्मचारियों को ईपीएफओ सिस्टम में ही एक जगह से नौकरी छोड़ने की तारीख डालने की सुविधा देता है। पहले कर्मचारी को इसके लिए नियोक्ता पर निर्भर रहना पड़ता था। केवल आवेदक को कर्मचारी की कंपनी में शामिल होने और छोड़ने की तारीख दर्ज करने या अपडेट करने का अधिकार था। किसी कारण से, नियोक्ता द्वारा कर्मचारी के बाहर निकलने की तारीख को अपडेट न करने के कारण, ईपीएफ (कर्मचारी भविष्य निधि) से धन की निकासी या हस्तांतरण अटक गया था।

लेकिन अब कर्मचारी को ईपीएफओ सिस्टम में बाहर निकलने की तारीख दर्ज करने की नई सुविधा मिलने से फंड से पैसा निकालना या ट्रांसफर करना आसान हो गया है। अगर आप भी अपने पीएफ खाते में निकासी की तारीख दर्ज करना चाहते हैं तो इसकी प्रक्रिया ऑनलाइन होने के साथ-साथ बेहद आसान है।

चरण-दर-चरण प्रक्रिया

  • सबसे पहले https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface/ पर जाएं।
  • यहां UAN, पासवर्ड और कैप्चा कोड डालकर लॉग इन करें। याद रखें आपका UAN एक्टिव होना चाहिए।
  • अब नए खुले हुए पेज पर ऊपर के सेक्शन में ‘मैनेज’ टैब पर क्लिक करें। इसके बाद ‘मार्क एग्जिट’ चुनें।
  • अब आपके सामने ‘सेलेक्ट एम्प्लॉयमेंट’ ड्रॉपडाउन दिखाई देगा। इसमें पुराना पीएफ खाता नंबर चुनें जो आपके यूएएन से जुड़ा हो।
  • इसके बाद उस अकाउंट और जॉब से जुड़ा डिटेल शो होगा। अब नौकरी छोड़ने की तारीख और कारण डालें। नौकरी छोड़ने की वजह रिटायरमेंट, शॉर्ट सर्विस जैसे विकल्प होंगे।
  • इसके बाद ‘रिक्वेस्ट ओटीपी’ पर क्लिक करें। यह आपके आधार से जुड़े मोबाइल नंबर पर आएगा।
  • अब निर्दिष्ट स्थान पर ओटीपी डालें।
  • फिर चेक बॉक्स को चुनें।
  • अंत में अपडेट पर क्लिक करें और फिर ओके पर क्लिक करें। अब आपके बाहर निकलने की तारीख सबमिट कर दी गई है।
READ  शेयर बाजार LIVE News: सेंसेक्स और निफ्टी में बैंक शेयरों पर दबाव; ये हैं टॉप गेनर और टॉप लूजर

इमरजेंसी फंड: कोरोना जैसे संकट के लिए इमरजेंसी फंड बनाएं, ताकि पैसे और टेंशन की जरूरत न पड़े।

ये बातें याद रखें

याद रखें कि ईपीएफओ सिस्टम में एक बार बाहर निकलने की तारीख अपडेट हो जाने के बाद इसे बदला नहीं जा सकता है। यह भी ध्यान रखें कि अगर आपने हाल ही में नौकरी छोड़ी है, तो आपको एग्जिट डेट फाइल करने के लिए 2 महीने का इंतजार करना होगा क्योंकि यह पीएफ में नियोक्ता के आखिरी योगदान के 2 महीने बाद ही अपडेट होगा।

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और बहुत कुछ फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।