पिछले पांच वर्षों में २० प्रतिशत से अधिक वार्षिक दी गई ५ अंतरराष्ट्रीय निधि, यहां जानिए विवरण मेंमोतीलाल ओसवाल नैस्डैक 100 ईटीएफ ने इंटरनेशनल फंड के रेगुलर प्लान में निवेशकों को सबसे ज्यादा रिटर्न दिया है।

अंतर्राष्ट्रीय निधि: एक बुनियादी निवेश कोष आपकी पूरी पूंजी को सिर्फ एक संपत्ति में निवेश करने के लिए नहीं है। इसमें पूंजी खोने का बड़ा खतरा होता है। ऐसे में निवेश सलाहकार निवेशकों को एक से अधिक विकल्पों में निवेश करने की सलाह देते हैं। अपनी पूंजी को इक्विटी, डेट, गोल्ड और FD जैसे विकल्पों में विभाजित करके निवेश करने से बेहतर रिटर्न मिलता है। मौजूदा वैश्विक दौर में जब दुनिया भर में निवेश के विकल्प खुल गए हैं, निवेशकों को भी अपनी पूंजी पर भौगोलिक जोखिम को ध्यान में रखते हुए निवेश करना चाहिए। इसका मतलब है कि अगर आप अपनी पूरी पूंजी का कुछ हिस्सा विदेशी कंपनियों में निवेश करते हैं, तो आप दूसरे देशों की अर्थव्यवस्था में आई तेजी का फायदा उठा सकते हैं।

उदाहरण के लिए, अमेरिकी कंपनियां Apple, Microsoft, Facebook और Amazon दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों में से हैं और अगर आप इन कंपनियों में निवेश करते हैं, तो पूंजी पर आपका रिटर्न भी इसके भारी मुनाफे के साथ बढ़ता है। भारत में कुछ ब्रोकरेज फर्म हैं जो आसानी से विदेशी कंपनियों में निवेश की सुविधा प्रदान करती हैं। कुछ विदेशी फंड ऐसे हैं जिनमें निवेशकों को महज पांच साल में निवेश पर 20 फीसदी से ज्यादा रिटर्न मिला है।

यूएस स्टॉक्स में निवेश करें: यूएस स्टॉक्स में निवेश क्यों करें? इस तरह से फेसबुक, अमेजन और नेटफ्लिक्स के शेयर खरीदे और बेचे जा सकते हैं

See also  Share Market LIVE Blog in Hindi: एसजीएक्स निफ्टी में तेजी, बढ़त के साथ खुल सकते हैं बाजार, आज इन शेयरों पर रहेगा फोकस

इन इंटरनेशनल फंड्स ने दिया 20% से ज्यादा का रिटर्न

मोतीलाल ओसवाल NASDAQ 100 ETF (नियमित योजना): मोतीलाल ओसवाल NASDAQ 100 ETF के रेगुलर प्लान में इंटरनेशनल फंड्स में सबसे ज्यादा रिटर्न निवेशकों को दिया गया है। इसने पिछले पांच साल में निवेशकों को 28.06 फीसदी का सालाना रिटर्न दिया है। इसके जरिए निवेशकों को Apple, Microsoft, Amazon, Alphabet, Netflix, Facebook, Tesla और PayPal जैसी अमेरिकी कंपनियों में निवेश का लाभ मिलता है। दुनिया भर में इन कंपनियों की मौजूदगी तेजी से बढ़ रही है और इससे निवेशकों को बेहतर रिटर्न मिल रहा है.

फ्रैंकलिन फीडर फ्रैंकलिन यूएस अपॉर्चुनिटीज फंड (प्रत्यक्ष योजना): फ्रैंकलिन फीडर के डायरेक्ट प्लान के जरिए निवेश करने से फ्रैंकलिन यूएस अपॉर्चुनिटीज फंड ने पिछले पांच सालों में निवेशकों को 24.51 फीसदी सालाना का रिटर्न दिया है।

पीजीआईएम इंडिया ग्लोबल इक्विटी अपॉर्चुनिटीज फंड (डायरेक्ट प्लान): पीजीएआईएम इंडिया ग्लोबल इक्विटी अपॉर्चुनिटीज फंड के डायरेक्ट प्लान के तहत निवेश की गई पूंजी पर निवेशकों को पिछले पांच साल में 24.16 फीसदी का रिटर्न मिला है। इस योजना के तहत निवेशकों की पूंजी को गैर-अमेरिकी इक्विटी और इक्विटी से जुड़ी प्रतिभूतियों में निवेश किया जा सकता है। इस योजना के तहत उभरती अर्थव्यवस्था में निवेश करने का अवसर है।

फ्रैंकलिन इंडिया फीडर फ्रैंकलिन यूएस अपॉर्चुनिटीज फंड (नियमित योजना): फ्रैंकलिन फीडर फ्रैंकलिन यूएस अपॉर्च्युनिटीज फंड की नियमित योजना के तहत निवेशकों को पांच साल में उनकी पूंजी पर 23.38 फीसदी सालाना रिटर्न मिला है।

एडलवाइस ग्रेटर चाइना इक्विटी ऑफ-शोर फंड (डायरेक्ट प्लान): ऐसा नहीं है कि विदेशों में निवेश के नाम पर सिर्फ अमेरिकी कंपनियां ही विकल्प के तौर पर उपलब्ध हैं, बल्कि कुछ फंड ऐसे भी हैं जिनके जरिए चीन, हांगकांग और ताइवान की कंपनियों में निवेश किया जा सकता है। एडलवाइस ग्रेटर चाइना इक्विटी ऑफ-शोर फंड की डायरेक्ट प्लान के तहत, निवेशकों को पिछले पांच वर्षों में कई निवेशों पर प्रति वर्ष 22.88 प्रतिशत का रिटर्न मिला है। इस फंड के तहत निवेशकों का पैसा टेनसेंट होल्डिंग्स, अलीबाबा ग्रुप होल्डिंग, चाइना मर्चेंट्स बैंक और किंग्सॉफ्ट जैसी कंपनियों में निवेश किया जाता है।
(डेटा स्रोत: वैल्यू रिसर्च और संबंधित ब्रोकरेज फर्म)

See also  NFO : सिर्फ 5000 रुपये लगाने से मिल सकता है ज्यादा रिटर्न, 25 मई से निवेश का नया विकल्प खुला

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।