आईपीओ के लिए ‘सुपर हिट’ मार्च तिमाही; 17 कंपनियों ने उठाया 18800 करोड़, निवेशकों को क्या मिला?

जनवरी-मार्च 2021 में आईपीओ मार्केटआईपीओ मार्केट जनवरी-मार्च 2021 में: इस साल की पहली तिमाही पूंजी बाजार में आईपीओ के नाम रही है।

जनवरी-मार्च 2021 में आईपीओ मार्केट: इस वर्ष की पहली तिमाही पूंजी बाजार में आईपीओ रही है। जनवरी से मार्च तिमाही में कुल 17 कंपनियों ने अपने आईपीओ लॉन्च किए हैं। 17 कंपनियों ने इश्यू साइज के मामले में मार्च तिमाही में आईपीओ से कुल 18803 करोड़ रुपये जुटाए हैं। यह मार्च 2018 तिमाही के बाद सबसे अधिक है। उस दौरान 14 कंपनियों ने आईपीओ से 19,275 करोड़ रुपये जुटाए थे। नए साल पर आर्थिक दृष्टिकोण में सुधार और आगे बेहतर विकास की उम्मीद में आईपीओ बाजार इस साल गुलजार है। पिछले साल भी, साल के आखिरी महीनों में आईपीओ को लेकर निवेशकों में जबरदस्त क्रेज था।

इन 17 कंपनियों के आईपीओ आए

(कंपनी और निर्गम आकार)

IRFC: 4633 करोड़
इंडिगो पेंट्स: 1171 करोड़
होम फर्स्ट फाइनेंस: 1154 करोड़
स्टोव शिल्प: 412.63 करोड़
ब्रैकफील्ड इंडिया रियल एस्टेट: 3800 करोड़
नुरेका लिमिटेड: 100 मिलियन
रेलटेल: 819.24 करोड़
हेरंबा इंडस्ट्रीज: 625 करोड़
MTAR टेक: 596.41 करोड़
ईज़ी ट्रिप प्लानर: 510 करोड़
अनुपम केमिकल्स: 760 करोड़
लक्ष्मी आर्गानिक्स: 600 मिलियन
शिल्पकार स्वचालन: 824 करोड़
सूर्योदय लघु वित्त बैंक: 582 करोड़
कल्याण ज्वैलर्स: 1175 करोड़
प्रौद्योगिकी देखें: 583 करोड़
बारबेक्यू नेशन: 453 करोड़

निवेशकों को कितना फायदा

इस साल जिन 17 कंपनियों ने अपने आईपीओ लॉन्च किए हैं, उनमें से 16 को बाजार में सूचीबद्ध किया गया है। निवेशकों ने इन 16 आईपीओ में से 10 में लिस्टिंग के दिन मुनाफा कमाया। इंडिगो पेंट्स ने लिस्टिंग के एक ही दिन में 109 फीसदी रिटर्न दिया, मतलब एक दिन में पैसा दोगुना हो गया। एमटीएआर टेक ने लिस्टिंग के दिन 88 फीसदी रिटर्न दिया। जबकि Nureka का लिस्टिंग डे रिटर्न 67 प्रतिशत और व्यू टेक 43 प्रतिशत रहा है। हीरम्बा में लिस्टिंग के दिन 29 प्रतिशत प्राप्त हुए हैं, जबकि लक्ष्मी आर्गानिक्स में 27 प्रतिशत वापस आ चुके हैं।

हालांकि, सुर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक, कल्याण ज्वैलर्स, अनुपम केमिकल्स, आईआरएफसी, क्राफ्ट्समैन ऑटोमेशन ने निराश किया।

कंपनियां आईपीओ क्यों ला रही हैं

वास्तव में कंपनियों को अपने व्यवसाय का विस्तार करने के लिए धन की आवश्यकता होती है। ऐसी स्थिति में कंपनियां आईपीओ के जरिए पूंजी जुटाती हैं और कारोबार बढ़ाने के लिए जुटाई गई पूंजी का इस्तेमाल करती हैं। यही कारण है कि कंपनियां सही समय पर आईपीओ लाती रहती हैं। वर्तमान समय की बात करें तो द्वितीयक बाजार की सकारात्मक धारणा के कारण प्राथमिक बाजार में भी तेजी आई है। फरवरी मध्य तक शेयर में लगातार तेजी देखी गई। सेंसेक्स अभी भी 50 हजार के करीब है। बढ़ती वैश्विक तरलता के कारण, कई कंपनियों ने आईपीओ जारी किए हैं। 2021 की मार्च तिमाही में, एफआईआई ने भारतीय शेयर बाजार में 53,000 करोड़ रुपये का निवेश किया।

आप कैसे निवेश कर सकते हैं

आप अपने स्तर पर सीधे आईपीओ में निवेश कर सकते हैं, जिसके लिए आपके पास डीमैट खाता होना चाहिए। इसे ब्रोकर के माध्यम से भी निवेश किया जा सकता है। हर ब्रोकरेज हाउस आईपीओ में निवेश के लिए अपनी वेबसाइट पर एक अलग सेक्शन रखता है, जहां आप कुछ जानकारी भरने के बाद आईपीओ के लिए आवेदन कर सकते हैं।

प्राप्त व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम इंडिया न्यूज हिंदी में, और शेयर बाजार, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस हिंदी पर बहुत कुछ अन्य ब्रेकिंग न्यूज। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, पर हमें का पालन करें ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।

You May Also Like

About the Author: Sumit

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: