अब निवेशकों को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) में निवेश के ज्यादा विकल्प मिलेंगे। अब आरईआईटी और इनविट को भी निफ्टी इंडेक्स में शामिल किया जाएगा। 30 सितंबर से निफ्टी इंडेक्स में रियल एस्टेट इन्वेस्टमेंट ट्रस्ट्स और इंफ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट ट्रस्ट्स (आरईआईटी और इनविट्स) को शामिल किया जाएगा। एनएसई ने एक बयान में कहा है कि एक्सचेंज पर ट्रेड किए गए सभी इक्विटी शेयर, आरईआईटीएस और इनविट्स को निफ्टी इंडेक्स में शामिल किया जा सकता है। REITS और InvIT भारत में नए निवेश साधन हैं लेकिन वे विदेशों में काफी लोकप्रिय हैं।

आरईआईटी और इनविट में निवेशकों को मिलेगा निवेश का मौका

माइंडस्पेस बिजनेस पार्क आरईआईटी के सीईओ विनोद रोहिरा का कहना है कि एनएसई द्वारा उठाया गया यह कदम बहुत उत्साहजनक है। इससे निवेशकों को आरईआईटी में निवेश करने और अंततः वॉल्यूम बढ़ाने का मौका मिलेगा। यह तरलता और बेहतर कीमत की खोज में भी मदद करेगा। आरईआईटी को भी निफ्टी इंडेक्स में शामिल किया जाएगा और इससे निवेशकों का दायरा बढ़ेगा। मौजूदा नियमों के मुताबिक निफ्टी इंडेक्स में सिर्फ उन्हीं शेयरों को शामिल किया जा सकता है, जिनका एक्सचेंज पर कारोबार होता है।

भारतीय शेयर बाजार को लेकर विदेशी निवेशकों का सतर्क रवैया, लेकिन घरेलू निवेशक पैसा क्यों लगा रहे हैं?

REITs और InVITs की कुल संपत्ति 1.64 लाख करोड़ रुपये

आरईआईटी में अचल संपत्ति संपत्तियां शामिल हैं। इसका एक बड़ा हिस्सा उन रियल एस्टेट एसेट्स में जाता है, जिन्हें पहले ही लीज पर दिया जा चुका है। InvIT में हाईवे, पावर ट्रांसमिशन जैसी इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनियां शामिल हैं। 31 मार्च तक, देश में 15 InvIT और चार REIT पंजीकृत थे। इनमें से छह स्टॉक एक्सचेंज में पंजीकृत हैं। REIT और InVIT ने मिलकर 2020-21 में 55 हजार करोड़ रुपये का निवेश किया है। अब उनकी कुल संपत्ति 1.64 लाख करोड़ रुपये हो गई है।

See also  रोलेक्स रिंग्स आईपीओ: रोलेक्स रिंग्स आईपीओ को सब्सक्राइब करने का आज आखिरी मौका, 16 शेयरों में लग सकती है बोली

पाना व्यापार समाचार हिंदी में, नवीनतम भारत समाचार हिंदी में, और शेयर बाजार पर अन्य ब्रेकिंग न्यूज, निवेश योजना और फाइनेंशियल एक्सप्रेस पर बहुत कुछ। हुमे पसंद कीजिए फेसबुक, हमारा अनुसरण इस पर कीजिये ट्विटर नवीनतम वित्तीय समाचार और शेयर बाजार अपडेट के लिए।